किसानों के लिए 1092 करोड़ रुपए का राहत पैकेज जारी

किसानों के लिए 1092 करोड़ रुपए का राहत पैकेज जारी

सीएम खट्टर ने किसानों को राहत पैकेज देकर फिर से छीना मुद्दा, जींद में शुरू हो चुका है ग्राम सचिवालय

चडीगढ़। हरियाणा के मुख्यमंत्री के मास्टर स्ट्रोक ने पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा को एक बार फिर से नई रणनीति बनाने के लिए मजबूर कर दिया है। मुख्यमंत्री ने किसानों को राहत पैकेज देकर अलग-थलग पड़ी कांग्रेस को एक बार मुद्दा विहीन कर दिया है। इससे पहले मुख्यमंत्री द्वारा जींद में ग्राम सचिवालय की शुरूआत की जा चुकी है।

हुड्डा ने सरकार को घेरने की घोषणा की थी
हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने हरियाणा की भाजपा सरकार को किसानों की समस्याओं पर घेरने की घोषणा की थी। हुड्डा यह संघर्ष मई माह के पहले सप्ताह से शुरू करने जा रहे हैं। प्रदेशव्यापी संघर्ष के लिए कांग्रेस पार्टी से अलग चलते हुए हुड्डा मौजूदा सरकार को घेरने की रणनीति तैयार करने में लगे हुए थे। इसके लिए हुड्डा पिछले कई दिनों से बकायदा प्रदेश की अनाज मंडियों तथा गावों का दौरा करके किसानों से बातचीत कर रहे थे। हुड्डा सरकार को किसानों की समस्याओं के मुद्दे पर घेरने की तैयारी कर रहे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा के सरकार विरोधी अभियान में उनके साथ उनके समर्थक विधायक भी हैं।

1092 करोड़ रुपए का राहत पैकेज
हुड्डा की इस रणनीति को पहले से ही फेल करने के उद्देश्य से सरकार ने पिछले दिनों जहां जींद जिले में ग्राम सचिवालय की शुरूआत की वहीं मुख्यमंत्री ने किसानों के लिए 1092 करोड़ रुपए का राहत पैकेज जारी कर दिया। सीएम ने किसानों के लिए कई राहत योजनाओं की घोषणा ही नहीं की बल्कि उन्हें समयबद्ध पूरा करने के लिए भी नीति निर्धारित की। हरियाणा सरकार के अधिकारी मंडियों में भी निगरानी कर रहे हैं।

मुद्दा विहीन हो गया विपक्षी
मुख्यमंत्री की इन घोषणाओं के बाद किसानों को आगे रखकर सरकार के खिलाफ रणनीति को अमली रूप देने में जुटा विपक्षी दल कांग्रेस एक बार पूरी तरह से मुद्दा विहीन हो गया है। प्रदेश में कांग्रेस पहले से ही अलग-थलग पड़ी हुई है। ऐसे में भाजपा सरकार द्वारा आज फैंके गए दांव ने पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा को नए सिरे से रणनीति बनाने के लिए मजबूर कर दिया है।
खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned