कासगंज में बिकरू कांड जैसी वारदात, शराब माफियाओं ने की सिपाही की हत्या, सीएम योगी ने दिखाई सख्ती

कासगंज में बिकरू कांड जैसी वारदात को अंजाम दिया गया है। यहां शराब माफियाओं को पकड़ने गई पुलिस को बंधक बनाकर उन्हें लहूलुहान कर दिया गया।

By: Abhishek Gupta

Published: 09 Feb 2021, 10:46 PM IST

कासगंज. कासगंज में बिकरू कांड जैसी वारदात को अंजाम दिया गया है। यहां शराब माफियाओं को पकड़ने गई पुलिस को बंधक बनाकर उन्हें लहूलुहान कर दिया गया। पुलिस की दूसरी टीम जब उन्हें तलाशने गई तो एक सिपाही व दरोगा खून से लतपथ मिले। इनमें से सिपाही की मौत हो गई है। मामले से पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया है। मामले का संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने माफियों पर एनएसए की कार्रवाई के आदेश दिए हैं।

ये भी पढ़ें- महीने भर में 2275 करोड़ का 'पौव्वा' गटक गये यूपी वाले, बिक्री में 127 प्रतिशत का हुआ इजाफा

यह था मामला-

मामला कासगंज के थाना सिढ़पुरा क्षेत्र के गांव नगला धीमर का है, जहां शराब माफियाओं को पकड़ने के लिए दारोगा अशोक और सिपाही देवेंद्र पहुंचे थे। इसकी खबर माफियाओं को पहले ही लग चुकी थी। ऐसे में जब यह पहुंचे तो माफियाओं ने उन्हें घेरकर बंधक बना लिया। बताया जा रहा है कि इसके बाद यह लोग दोनों को किसी अनजान जगह ले गए, जहां उन्हें बेरहमी से मारा गया और घायलवस्था में ही उन्हें फेंक दिया। बाद में पुलिस टीम जब उनकी तलाशी में जुटी, तो मौके पर पहुंच दारोगा अशोक को लहूलुहान हालत में पाया। और सिपाही देवेंद्र की लाश अर्धनग्न हालत में मिली। यह देखकर पुलिस टीम के होश उड़ गए।

ये भी पढ़ें- यह है पुलिस स्टेशन, वो भी विदेश में नहीं बल्कि यूपी के झाँसी में, देखें तस्वीरें

सीएम योगी सख्त-

मामले का संज्ञान लेते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। साथ ही उनपर एनएसए लगाने का आदेश दिया है। सीएम ने शहीद सिपाही के परिजनों के लिए 50 लाख रुपए मुआवजा व परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने का ऐलान किया है।

Show More
Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned