script 18 माह में बनना था लॉ कॉलेज, चार साल में भी नहीं बन पाया, छह माह और लगेंगे | Law college could not be built even in four years | Patrika News

18 माह में बनना था लॉ कॉलेज, चार साल में भी नहीं बन पाया, छह माह और लगेंगे

locationखरगोनPublished: Dec 09, 2023 03:54:59 pm

Submitted by:

Amit Bhatore

रहीमपुरा में बन रहा लॉ कॉलेज का नवीन भवन, बाउंड्रीवाल और एप्रोच रोड बन रहा

18 माह में बनना था लॉ कॉलेज, चार साल में भी नहीं बन पाया, छह माह और लगेंगे
18 माह में बनना था लॉ कॉलेज, चार साल में भी नहीं बन पाया, छह माह और लगेंगे
खरगोन. कानून की पढ़ाई करने वाले विद्यार्थियों को नए भवन में शिफ्ट होने के लिए अभी और इंतजार करना पड़ेगा। जुलवानिया रोड पर लॉ काॅलेज का भवन अब तक अधूरा है। यहां फरवरी 2019 में नवीन भवन का निर्माण शुरू हुआ था। इस भवन को 18 माह में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया था। परंतु चार साल बाद भी भवन नहीं बन पाया है। हालात यह है कि अब तक एप्रोच रोड और बाउंड्री वाल भी नहीं पूरी बन पाई है। दो मंजिला बिल्डिंग में क्लास रूम के साथ मिटिंग हाल, फर्नीचर, कम्प्यूटरकृत लाइब्रेरी आदि कक्ष तैयार किए गए हैं। इसी भवन में अतिरिक्त भवन का निर्माण किया जा रहा है। इस निर्माण में अभी वक्त लगेगा। उल्लेखनीय है कि 10 एकड़ जमीन पर भवन करीब सवा पांच करोड़ रुपए भवन निर्माण का बजट था। इसके बाद रिवाइज किया गया है। डीपीआर बनाकर भेजी गई थी। रिवाइज डीपीआर के अनुसार अतिक्त कक्ष, बाउंड्री वाल और एप्रोच रोड का निर्माण किया जा रहा है।

पीजी कॉलेज में लग रही कक्षाएं

पीजी कॉलेज में वर्ष 2020-21 से तीन वर्षीय एलएलबी (ऑनर्स) का कोर्स शुरू किया गया है। यहां प्रतिवर्ष करीब 120 सीटों पर प्रवेश दिया जा रहा है। यहां पर्याप्त जगह नहीं होने से विद्यार्थियों को पढ़ाई में परेशानी हो रही है। प्राचार्य डॉ. आरएस देवड़ा ने बताया कि जुलवानिया रोड पर कॉलेज का नया भवन बन रहा है। कॉलेज का एप्रोच रोड और बाउंड्रीवाल का निर्माण जारी है।

वर्शन

लॉ कॉलेज का बल्डिंग का रिवाइज किया गया है। दोबारा डीपीआर बनाकर भेजी गई थी। बाउंड्रीवाल और रोड का निर्माण किया जा रहा है। अभी छह माह लग सकते हैं। -नरेंद्र कुमार मंडलोई, संभागीय यंत्री, पीआईयू

ट्रेंडिंग वीडियो