कुछ ही दिनों बाद युवक के सिर सजने वाला था सेहरा, पर अचानक हुआ ये हादसा और मातम में बदल गई परिवार की खुशियां

कुछ ही दिनों बाद युवक के सिर सजने वाला था सेहरा, पर अचानक हुआ ये हादसा और मातम में बदल गई परिवार की खुशियां

Vasudev Yadav | Publish: Jun, 15 2019 07:27:08 PM (IST) Korba, Korba, Chhattisgarh, India

घर में जोर-शोर से शादी की तैयारी चल रही थी, उत्साह का माहौल था। पर नियती को कुछ और ही मंजूर था। सड़क हादसे (Road Accident) में युवक की मौत से परिवार में मातम पसर गया। गुस्साए लोगों ने शव सड़क पर रख लगभग ढाई घंटे तक मार्ग जाम कर दिया।

कोरबा. महज दस दिन बाद घर में होने वाली शादी की तैयारी चल रही थी। लेकिन किसे पता था एक सड़क दुर्घटना (Road Accident) से यह तैयारी मातम में बदल जाएगी। 25 जून को जिस युवक को दूल्हा बनकर शादी के मंडप पर बैठना था, सड़क हादसे (Road Accident) में घायल होने के बाद उसने शनिवार की सुबह दम तोड़ दिया। जिससे गुस्साए लोगों ने शव सड़क पर रख लगभग ढाई घंटे तक मार्ग जाम कर दिया। मुआवजा व आश्वासन के बाद जाम समाप्त हुआ।

पूरा मामला दर्री से गेरवाघाट पुल तक जाने वाले एप्रोच रोड पर स्थिति प्रगति नगर का है। जहां के निवासी राजेश कुमार चतुर्वेदी (24 वर्ष) की सड़क हादसे में मौत हो गई है। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि बीते शुक्रवार की शाम लगभग 6.30 बजे राजेश अपने घर के समीप पैदल चलकर सड़क पार कर रहा था। इसी दौरान कोरबा की तरफ से आ रहे ट्रेलर ने उसे अपनी चपेट में ले लिया।

 

कुछ ही दिनों बाद युवक के सिर सजने वाला था सेहरा, पर अचानक हुआ ये हादसा और मातम में बदल गई परिवार की खुशियां

ठोकर से राजेश एक तरफ छिटक गया जबकि ट्रेलर भी सड़क किराने नाले में फंसकर पलट गया। हादसे में राजेश को गंभीर चोट आई थी। उसके कमर के नीचे का हिस्सा बुरी तरह से कुचल गया था, जबकि हाथ व सिर में भी गंभीर चोट आई थी। इसी अवस्था में राजेश का तत्काल न्यू कोरबा अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां पूरी रात इलाज चलने के बाद उसने शनिवार सुबह लगभग 10 बजे दम तोड़ दिया। राजेश की मृत्यु के तुरंत बाद परिजनों के साथ आस-पास के मोहल्लेवासियों ने मृतक के शव को सड़क पर रख कर मार्ग जाम कर दिया।

 

कुछ ही दिनों बाद युवक के सिर सजने वाला था सेहरा, पर अचानक हुआ ये हादसा और मातम में बदल गई परिवार की खुशियां

सूचना मिलते ही पुलिस भी मौके पर पहुंची और दोनो तरफ बेरिकेट्स लगा दिए। दर्री डेम से वाहनों को गेरवाघाट की तरफ नहीं जाने की हिदायत दी जाने लगी। जाम शुरू होने के कुछ देर पश्चात प्रशासन की ओर से आरआई मौके पर पहुंचे और 25 हजार रूपए का तत्कालिक मुआवजा परिवार को प्रदान किया। जबकि 20 हजार ट्रेलर के मालिक की ओर से भी दिलवाया गया। हालांकि तहसीलदार या एसडीएम मौके पर नहीं पहुंचे थे। इन सबके लगभग ढाई घंटे बाद दोपहर 12.30 बजे चक्काजाम समाप्त हुआ। हादसे से व्यथित मृतक की मां के साथ ही पूरे परिवार का रो-रो कर बुरा हाल है।

पूरे मोहल्ले में गमगीन महौल
मृतक राजेश के मामा रेवत कुमार ने बताया कि भांजे की बारात 25 जून को निकलने वाली थी। शादी पथरिया के पास तय हुई थी। अचानक हुए हादसे (Road Accident) से परिवार में मातम पसर गया। शादी की तिथि करीब आने के कारण रिश्तेदार भी घर आए हुए थे। चार भाई बहनो में राजेश सबसे छोटा था। जिसकी शादी की तैयारी खुशी-खुशी चल रही थी। अब उसी की अर्थी उठानी पड़ रही है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned