scriptGovernment orders closure of 1178 Twitter accounts | सरकार ने 1178 ट्विटर अकाउंट्स को बंद करने का आदेश, वजह रह जाएंगे आप | Patrika News

सरकार ने 1178 ट्विटर अकाउंट्स को बंद करने का आदेश, वजह रह जाएंगे आप

  • सरकार की आशंका, खलिस्तान से सहानुभूति रखने वाले या हो सकते हैं पाकिस्तान द्वारा समर्थित
  • आईटी अधिनियम की धारा 69ए के तहत257 खातों को किया था ब्लॉक करने का दिया था निर्देश

Updated: February 08, 2021 02:04:51 pm

नई दिल्ली। भारत सरकार ने एक नया नोटिस जारी कर ट्विटर को 1,178 खातों को ब्लॉक करने का निर्देश दिया है क्योंकि इस बात की आशंका जताई जा रही है कि ये अकाउंट्स या तो खलिस्तान से सहानुभूति रखने वालों के हैं या पाकिस्तान द्वारा समर्थित हैं। सूत्रों के मुताबिक, बीते हफ्ते गुरुवार को ट्विटर को यह नया नोटिस भेजा गया था, लेकिन कंपनी की तरफ से इस पर अभी तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

Government orders closure of 1178 Twitter accounts
Government orders closure of 1178 Twitter accounts

यह भी पढ़ेंः- नए कृषि कानूनों का फायदा उठाकर ऐप की मदद से बेची फल और सब्जियां, कमाए 6.5 करोड़ रुपए

257 खातों को ब्लॉक करने का दिया था निर्देश
देश में किसानों द्वारा किए जा रहे विरोध प्रदर्शनों के बीच महीने की शुरुआत में सूचना और प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने आईटी अधिनियम की धारा 69ए के तहत हैशटैगमोदीप्लैनिंगफार्मरजेनोसाइड का इस्तेमाल कर रहे 257 खातों को ट्विटर पर ब्लॉक करने का निर्देश दिया था।

यह भी पढ़ेंः- कोरोना काल में इस कंपनी ने अब तक का सबसे बड़ा बोनस देने का किया ऐलान, 700 करोड़ रुपए करेगी खर्च

ट्विटर को दी थी चेतावनी
इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय ने ऐसे खातों को ब्लॉक किए जाने के सरकार के आदेश का अनुपालन न करने के चलते ट्विटर को दंडात्मक कार्रवाई किए जाने की चेतावनी भी दी थी। हैशटैगमोदीप्लैनिंगफार्मरजेनोसाइड के साथ कई बातें सोशल मीडिया पर रखी गईं, सरकार का मानना है कि इनका मकसद लोगों को भड़काना और नफरत फैलाना है।

यह भी पढ़ेंः- चमोली ग्लेशियर हादसा: इन दो कंपनियों को हुआ बड़ा नुकसान, बदलने जा रहे थे उत्तराखंड की तकदीर

ट्विटर ने नहीं की कोई कार्रवाई
इस बात का हवाला देते हुए कि सरकार के आदेश के बावजूद ट्विटर ने ऐसे खातों और ट्वीट्स को अनब्लॉक कर रखा है, नोटिस में कहा गया कि ट्विटर एक मध्यस्थ है और सरकार के आदेश का पालन करने के लिए बाध्य है, लेकिन अगर फिर भी ऐसा नहीं होता है, तो इसके खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई की जाएगी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

राजस्थान में इंटरनेट कर्फ्यू खत्म, 12 जिलों में नेट चालू, पांच जिलों में सुबह खत्म होगी नेटबंदीनूपुर शर्मा पर डबल बेंच की टिप्पणियों को वापस लिया जाए, सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस के समक्ष दाखिल की गई Letter PettitionENG vs IND Edgbaston Test Day 1 Live: ऋषभ पंत के शतक की बदौलत भारतीय टीम मजबूत स्थिति मेंMaharashtra Politics: महाराष्ट्र बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने देवेंद्र फडणवीस के डिप्टी सीएम बनने की बताई असली वजह, कही यह बातजंगल में सर्चिंग कर रहे जवानों पर नक्सलियों ने की फायरिंगपंचायत चुनाव: दो पुलिस थानों ने की कार्रवाई, प्रत्याशी का चुनाव चिन्ह छाता तो उसने ट्राली भर छाता बंटवाने भेजे, पुलिस ने किए जब्तMonsoon/ शहर में साढ़े आठ इंच बारिश से सडक़ों पर सैलाब जैसा नजारा, जन जीवन प्रभावित2 जुलाई को छ.ग. बंद: उदयपुर की घटना का असर छत्तीसगढ़ में, कई दलों ने खोला मोर्चा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.