नए कृषि कानूनों का फायदा उठाकर ऐप की मदद से बेची फल और सब्जियां, कमाए 6.5 करोड़ रुपए

  • महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले के इस कृषक उत्पादक संगठन ने जुड़े हुए हैं 600 किसान
  • किसान कनेक्ट ऐप से एफपीओ ने 22,000 से अधिक ग्राहकों को भी जोड़ा, किया कारोबार

By: Saurabh Sharma

Updated: 08 Feb 2021, 01:43 PM IST

नई दिल्ली। कोरोना काल में किसानों से फल और सब्जियों का संग्रह करके शहरों में बेचकर एक एफपीओ ने 6.5 करोड़ रुपये का कारोबार किया। महाराष्ट्र के अहमदनगर जिले के इस कृषक उत्पादक संगठन (एफपीओ) के साथ करीब 600 किसान जुड़े हुए हैं। साथ ही, ऐप के माध्यम से इसने 22,000 से अधिक ग्राहकों को भी जोड़ रखा है। एफपीओ के ये सभी ग्राहक देश की आर्थिक राजधानी मुंबई और पुणे में हैं जिनसे ऑर्डर लेकर उन्हें पैकेट में फल व सब्जियों की डिलीवरी दी जाती है।

इस तरह से आया आईडिया
किसान कनेक्ट नामक इस एपफपीओ के संस्थापक अहमदनगर जिले के सारंग निर्मल ने बताया कि कोरोना काल में जब किसान अपने फल व सब्जियां नहीं बेच पा रहे थे तभी उनके मन में एक आईडिया आया कि क्यों न मुंबई और पुणे में रहने वाले लोगों से सीधे संपर्क कर उनको ताजे फल व सब्जियां भेजा जाए।

यह भी पढ़ेंः- कोरोना काल में इस कंपनी ने अब तक का सबसे बड़ा बोनस देने का किया ऐलान, 700 करोड़ रुपए करेगी खर्च

नए कृषि कानूनों से उठाया फायदा
हाल ही में दिल्ली दौरे पर आए निर्मल ने मीडिया को बताया कि उन्होंने व्हाट्सऐप के जरिए मुंबई और पुणे के निवासियों से फलों और सब्जियों का ऑर्डर लेना शुरू किया और उनके ऑर्डर के मुताबिक ताजे फल व सब्जियों का पैकेट बनाकर उन्हें डिलीवर करने लगे। उन्होंने बताया कि केंद्र सरकार द्वारा लाए गए नए कृषि कानून से उनका काम और आसान हो गया है क्योंकि नए कानून में कृषि उपज का कारोबार पूरे देश में कहीं भी बेरोकटोक किया जा सकता है जबकि पहले व्यापार के मकसद से किसान भी जब एक शहर से दूसरे शहर अपनी उपज ले जाते थे तो वहां की एपीएमसी वाले उनके पीछे लगे रहते थे।

600 किसान संगठनों को जोड़ा
बकौल सारंग निर्मल धीरे-धीरे नए ग्राहक जुड़ते चले गए फिर उन्होंने किसान कनेक्ट नामक एक ऐप बनाया और इसी नाम से मार्च में गठित एफपीओ में आज 598 किसान जुड़ चुके हैं। उन्होंने बताया कि किसानों से फल और सब्जी लेकर सीधे ग्राहकों को बेचने से किसानों को मंडियों से ज्यादा दाम मिलता है क्योंकि इस प्रकार के ट्रेड में कहीं बिचैलिया नहीं है।

यह भी पढ़ेंः- चमोली ग्लेशियर हादसा: इन दो कंपनियों को हुआ बड़ा नुकसान, बदलने जा रहे थे उत्तराखंड की तकदीर

कमाए 6.5 करोड़ रुपए
किसान कनेक्ट किसानों का संगठन है और इसके जरिए होने वाले व्यापार का फायदा भी एफपीओ से जुड़े किसानों को मिलता है। किसान कनेक्ट का पूरा प्रबंधन संभालने वाले सारंग निर्मल ने बताया कि मार्च में उन्होंने व्हाट्सऐप के जरिए यह काम शुरू किया और अब तक किसान कनेक्ट ने 6.5 करोड़ रुपए का कारोबार किया है और इसे लगातार बढ़ाने की योजना पर वह काम कर रहे हैं।

Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned