रेमडेसिविर इंजेक्शन पर मुख्यमंत्री योगी नाराज कहा, कालाबाजारी और जमाखोरी बर्दाश्त नहीं

Remdesivir Injection : कानपुर के तीन जमाखोरों के खिलाफ एनएसए के तहत कड़ी कार्रवाई शीघ्र

By: Mahendra Pratap

Published: 18 Apr 2021, 07:08 PM IST

लखनऊ. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ( CM Yogi angry) ने बेहद सख्त लहजे में चेताया कि, रेमडेसिविर इंजेक्शन ( Remdesivir Injection) की कालाबाजारी ( Black marketing) और जमाखोरी ( Hoarding) बर्दाश्त नहीं ( No Tolerate) है। ऐसा करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। कानपुर के तीन जमाखोरों के खिलाफ एनएसए के तहत शीघ्र कड़ी कार्रवाई होगी।

यूपी के ऑक्सीजन प्लांटों की सांसें फूली, अस्पतालों में ऑक्सीजन का संकट

राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत सजा का फैसला:- अपने सरकारी आवास से टीम.11 के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कोरोना संक्रमण की समीक्षा के दौरान कहाकि, जीवनरक्षक इंजेक्शन रेमडेसिविर की जमाखोरी और इसकी कालाबाजारों करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी।

सीएम योगी के निर्देश के बाद उत्तर प्रदेश एसटीएफ के साथ ही लोकल पुलिस की टीमें जमाखोरों तथा कालाबाजारी करने वालों की तलाश में जुट गईं हैं। कानपुर में 265 रेमडेसिविर इंजेक्शन के साथ पकड़े गए तीन व्यक्तियों को राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के प्रावधानों के तहत सजा देने का फैसला किया गया है।

फार्मा डिस्ट्रीब्यूटर्स पर निगरानी:- सरकार के प्रवक्ता ने कहाकि, यूपी सरकार रेमडेसिविर दवाएं और अन्य कोविड से संबंधित दवाओं की उपलब्धता की सुविधा को आसान बनाने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। अधिकारी फार्मा डिस्ट्रीब्यूटर्स पर निगरानी रख रहे हैं।

जीवनरक्षक औषधि में कोई कमी न होने पाए: सीएम योगी

सीएम योगी ने कहाकि, प्रदेश में किसी भी जीवनरक्षक औषधि, होम आइसोलेशन में रह रहे मरीजों के मेडिकल किट की दवाओं में कोई कमी न होने पाए। खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग का कंट्रोल रूम निरन्तर कार्यशील रहते हुए रेमडेसिविर सहित विभिन्न औषधियों की उपलब्धता पर लगातार निगरानी करे। प्रदेश में रेमडेसिविर की अनुमानित आवश्यकता अनुरूप उत्पादनकर्ता कम्पनियों से संवाद स्थापित करते हुए मांग भेजी जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि किसी भी दशा में यह सप्लाई चेन बाधित न होने पाए। स्वास्थ्य मंत्री औषधियों की उपलब्धता और आपूर्ति की पूरी चेन पर नजर रखें। इसकी लगातार समीक्षा की जाए।

Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned