script बेहोश होते ही हाथों से दबोच लिया टाइगर, तीन महिलाओं को बना चुका था निवाला | Man-eating tiger traculized in Nainital | Patrika News

बेहोश होते ही हाथों से दबोच लिया टाइगर, तीन महिलाओं को बना चुका था निवाला

locationलखनऊPublished: Dec 26, 2023 01:45:53 pm

Submitted by:

Naveen Bhatt

नैनीताल जिले में 19 दिन की कड़ी मशक्कत के बाद आखिरकार वन विभाग की टीम ने आदमखोर बाघ (टाइगर) को ट्रैंकुलाइज कर पकड़ ही लिया है। इससे लोगों ने राहत की सांस ली है।

tiger_caught.png
नैनीताल में वन विभाग की टीम ने ट्रैंकुलाइज कर नरभक्षी बाघ को पकड़ा
बीते दिनों आदमखोर ने नैनीताल-भीमताल क्षेत्र में जंगलों में चारा लेने गई एक के बाद एक तीन महिलाओं को निवाला बना दिया था। इससे पूरे इलाके में दहशत फैल गई थी। दहशत के मारे आसपास के कई स्कूल भी बंद कराने पड़े थे। वन विभाग भी स्पष्ट नहीं कर पा रहा था कि आदमखोर तेंदुआ है या बाघ। आदमखोर को पकड़ने के लिए वन विभाग ने कई टीमों का गठन किया था। सोमवार देर रात वन विभाग की टीम ने आदमखोर बाघ को नौकुचियाताल के जंगलियागांव के आसपास के जंगल में ट्रैंकुलाइज कर पकड़ लिया। ट्रैंकुलाइज बाघ को वन विभाग ने रानीबाग रेस्क्यू सेंटर भेज दिया है।
सेंपल भेजे जाएंगे दून
वन विभाग के अधिकारियों का मानना है कि पकड़ा गया बाघ नरभक्षी हो सकता है। हालांकि बाघ के सैंपल डब्लूआईआई देहरादून भेजकर ही इस बात की पुष्टि हो पाएगी। बताया जा रहा है कि एक ही क्षेत्र में तीन महिलाओं को निवाला बनाने वाला आदमखोर बाघ ही हो सकता है। इस प्रकार का हमला तेंदुआ नहीं करता है।
रात 12 बजे किया ट्रैंकुलाइज
फॉरेस्ट रेंजर विजय मेलकानी के मुताबिक सोमवार रात 12 बजे जंगलियागांव में बाघ विशेषज्ञ डॉ. हिमांशु पांगती, डॉ. दुष्यंत ने अपनी टीम के साथ क्षेत्र में घूम रहे नरक्षभी बाघ को ट्रैंकुलाइज किया है। उसके बाद बाघ को रेस्क्यू सेंटर भेज दिया गया था। टाइगर पकड़े जाने के बाद से आसपास के इलाकों के लोगों ने राहत की सांस ली है।

ट्रेंडिंग वीडियो