UP Board Result 2021: इस बार भी लड़कियों ने मारी बाजी, सीएम योगी ने दी सभी को बधाई, असंतुष्ट छात्रों को मिलेगा मौका

UP Board Result 2021 updates. 10वीं के 99.53 व 12वीं के 97.88 प्रतिशत परीक्षार्थी हुए पास. असंतुष्ट परीक्षार्थियों को अंक सुधारने का मिलेगा मौका.

By: Abhishek Gupta

Updated: 31 Jul 2021, 07:22 PM IST

लखनऊ. UP Board Result 2021. यूपी बोर्ड हाईस्कूल (UP Board Class 10th Result 2021) व इंटरमीडिएट (UP Board Class 12th Result 2021) की परीक्षा के रिजल्ट शनिवार को घोषित हो गए। हाईस्कूल में कुल 99.53 फीसदी, तो इंटरमीडिएट के कुल 97.88 प्रतिशत परीक्षार्थी पास हुए हैं। इस बार फिर लड़कियां ने बाजी मारी है। बोर्ड ने बताया कि यूपी बोर्ड दसवीं में 99.52 प्रतिशत छात्र और 99.55 प्रतिशत छात्राएं पास हुई हैं। वहीं 12वीं में 97.47 प्रतिशत छात्र और 98.40 प्रतिशत छात्राएं पास हुई हैं। कोरोना (Corona) महामारी के कारण पहली बार बिना परीक्षा के रिजल्ट का ऐलान हुआ है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi) ने सभी उत्तीर्ण छात्र-छात्राओं को बधाई भी दी है। माध्यमिक शिक्षा परिषद की वेबसाइट upmsp.edu.in और upresults.nic.in पर रिजल्ट देखें जा सकते हैं। कुल करीब 56 लाख छात्र-छात्राएं परीक्षा के लिए रजिस्टर्ड हुए थे।

ये भी पढ़ें- UP Board Result 2021: वर्षों से फेल हो रहे स्टूडेट्स की भी बल्ले-बल्ले, जानें यूपी बोर्ड रिजल्ट की खास बातें

सीएम ने दी बधाई-
रिजल्ट घोषित होने के बाद सीएम योगी ने कहा माध्यमिक शिक्षा परिषद्, उत्तर प्रदेश के 10वीं व 12वीं कक्षा के परिणामों में सफल हुए सभी विद्यार्थियों, उनके अभिभावकों व गुरुजनों को हृदय से बधाई।कोरोना की विषम परिस्थितियों में आपकी सफलता सराहनीय है।मॉं सरस्वती से सभी के उज्ज्वल भविष्य व कुशाग्र बुद्धि की कामना है।

असंतुष्ट छात्रों को अंक बढ़ाने का मिलेगा मौका-

परिणाम घोषित होने के बाद माध्यमिक शिक्षा के निदेशक विनय कुमार पांडेय ने ऐलान किया कि जो परीक्षार्थी रिजल्ट में अंकों में सुधार करना चाहते हैं, उन्हें आगामी परीक्षा में सम्मिलित कर मौका दिया जाएगा। इसके लिए उनसे कोई शुल्क नहीं लिया जाएगा। कोरोना संक्रमण की स्थिति में सुधार होने के बाद परीक्षाएं होंगी।

ये भी पढ़ें- UP Board 12th Result 2021 Live: यूपी बोर्ड 12वीं का रिजल्ट घोषित, यहां रोल नंबर डालकर देखें रिजल्ट

मेरिट लिस्ट न जारी होने से परीक्षार्थी मायूस-
कोरोना को देखते हुए इस वर्ष परीक्षाएं नहीं हुई थी। ऐसे में माध्यमिक शिक्षा विभाग के नए पैटर्न के तहत परीक्षार्थियों के परिणाम घोषित किए गए हैं। नए पैटर्न को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हरी झंडी दी थी। वैकल्पिक फॉर्मूले के आधार पर यूपी बोर्ड के रिजल्ट तैयार होने के कारण पहली बार टॉपर्स की सूची या मेरिट लिस्ट भी जारी नहीं की गई है। ऐसे में जिन छात्र-छात्राओं ने टॉप किया है, वे खासा निराश हैं।

Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned