Quick Read: कानपुर और उन्नाव में मानव तस्करी के नेटवर्क का बड़ा खुलासा, टूरिस्ट वीजा देकर 30-30 हजार में लड़कियों को बेचा

ट्रैवल एजेंट मुजम्मिल और अतीक उर्र रहमान से हुई पूछताछ में क्राइम ब्रांच को मानव (महिला) तस्करी के बड़े नेटवर्क का खुलासा हुआ है। केवल कानपुर और उन्नाव से डेढ़ साल के भीतर 17 महिलाओं/युवतियों को नौकरी का झांसा देकर ये दोनों अलग-अलग देशों में बेच चुके हैं।

By: Karishma Lalwani

Published: 14 Apr 2021, 03:47 PM IST

कानपुर और उन्नाव की 17 महिलाओंं को बेचा

कानपुर. ट्रैवल एजेंट मुजम्मिल और अतीक उर्र रहमान से हुई पूछताछ में क्राइम ब्रांच को मानव (महिला) तस्करी के बड़े नेटवर्क का खुलासा हुआ है। केवल कानपुर और उन्नाव से डेढ़ साल के भीतर 17 महिलाओं/युवतियों को नौकरी का झांसा देकर ये दोनों अलग-अलग देशों में बेच चुके हैं। कई और महिलाओं व युवतियां इनका शिकार हो चुकी हैं जिनके बारे में पड़ताल की जा रही है। डीसीपी क्राइम सलमान ताज पाटिल ने कहा कि आरोपियों ने जिन महिलाओं के बारे में जानकारी दी है उसमें से 11 महिलाएं कानपुर नगर की हैं। एक गुजरात और छह उन्नाव की हैं। इन सभी को नौकरी लगवाने का झांसा देकर ओमान, मस्कट, सऊदी अरब, कतर और कुवैत भेजा गया है। एक महिला को यहां से भेजने पर 30-30 हजार रुपये इन एजेंटों को मिलता था। आरोपी महिलाओं को टूरिस्ट वीजा देकर विदेश भेजते थे जिसकी समय विधि बहुत कम होती थी। पकड़े गए आरोपियों ने कहा कि ओमान में जब भी यहां से भेजी गई कोई महिला पहुंचती है तो उसको रिसीव करने के लिए श्रीलंकाई मूल की महिला आयशा आती है। वो उसे एक बड़ी इमारत में बने दफ्तर में ले जाती है। यहां पर महिलाओं की बोली लगाई जाती है। विरोध पर मारपीट कर प्रताड़ित किया जाता है।

मंदिर में की शादी फिर हरियाणा लाकर बेच दिया

गोरखपुर. गुलरिहा क्षेत्र की रहने वाली किशोरी को गांव के ही युवक ने बहला-फुसलाकर अगवा कर लिया। युवती का आरोप है कि इससे पहले शादी का झांसा देकर पांच साल तक शा युवक ने उसका शारीरिक शोषण किया। अपहरण करने के बाद दिखावे के लिए मंदिर में उससे शादी भी कर ली और बाद में हरियाणा ले जाकर दो लाख रुपये में एक महिला के हाथ उसे बेच दिया। युवती ने लिखा है कि मोनू निषाद उर्फ महेंद्र ने शादी का झांसा देकर पांच साल तक उसके साथ शारीरिक संबंध बनाता रहा। 25 फरवरी 2021 वह शादी करने की बात करते हुए दो बजे रात में घर से भगा ले गया। बाद में दोनों के परिवार वालों ने सहमति से बरगदही शिव मंदिर में उनकी शादी करा दी। शादी के चार दिन बाद आरोपी उसे लेकर हरियाणा चला गया। वहां शकुंतला नाम की एक महिला के घर में वह किशोरी के साथ रहने लगा। किसी तरह से महिला के चंगुल से निकलकर किशोरी वन स्टाफ सेंटर पहुंची। सेंटर संचालक की मदद से गोरखपुर पहुंचने के बाद अगवा करने वाले युवक सहित चार के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कराया।

खेत में सो रहे किसान की गोली मारकर हत्या

फर्रुखाबाद. कंपिल थाना क्षेत्र के गांव दिवरैया में खेतों पर सो रहे वृद्ध किसान की गोली मारकर हत्या कर दी गई। दिवरैया निवासी 60 वर्षीय किसान तिलकराम शाक्य मंगलवार रात गांव से बाहर अपने खेत में तंबाकू की फसल की रखवाली करने गए थे। रात में वह खेत पर ही चारपाई डालकर सो गए थे। बुधवार तड़के कुछ लोगों ने उनपर फायरिंग कर दी, जिससे सिर में गोली लगने से तिलकराम शाक्य की मौके पर ही मौत हो गई। गोली चलने की आवाज सुनकर आसपास के लोग पहुंचे तबतक हमलावर भाग निकले। घटना की जानकारी मिलते ही सीओ राजवीर सिंह गौर और थानाध्यक्ष ने पुलिस बल के साथ घटनास्थल पहुंचकर जांच पड़ताल की। पुलिस को प्राथमिक छानबीन में रंजिश की जानकारी मिली। तिलकराम के भाई रामपाल ने कहा कि गांव के ही लोगों से जमीन पर कब्जे को लेकर विवाद चल रहा था। इसी रंजिश में पड़ोसी और उसके पुत्र ने साथी की मदद से हत्या की घटना को अंजाम दिया। सीओ राजवीर सिंह ने कहा कि रंजिशन हत्या हुई है, घटना की जांच कई बिंदुओं पर की जा रही है। जल्द ही पर्दाफाश कर दिया जाएगा।

डायल 112 की गाड़ी नाले में गिराई, निलंबित हुआ सिपाही

गोरखपुर. गोरखपुर में डायल 112 के पीआरवी 0320 के चालक सिपाही राजेश यादव के खिलाफ एसएसपी के निर्देश पर कैंट थाने में केस दर्ज किया गया है। सिपाही राजेश यादव डायल 112 की पीआरवी 0320 गाड़ी का चालक था। उसे बीते 11 अप्रैल को गाड़ी बनवाने के लिए पार्क रोड स्थित अंसारी ट्रैक्टर्स पर भेजा गया। वह गाड़ी बनवाकर पुलिस लाइंस के एमटी शाखा में दोपहर एक बजे पहुंचा। वहां गाड़ी का निरीक्षण करने के बाद शाहपुर के बेस स्टेशन पर उन्हें ड्यूटी करने के लिए पीआरवी के साथ भेजा गया और कहा गया कि वहां वर्तमान में जो रिजर्ब पीआरवी 0360 तैनात है उसे मुक्त करिए। लेकिन राजेश यादव गाड़ी लेकर शाहपुर बेस स्टेशन नहीं पहुंचा और लापरवाही पूर्वक वाहन चलाते हुए गाड़ी को पुलिस लाइंस के चुनाव सेल के कार्यालय के पास नाले में गिरा दिया। जिससे पीआरवी वाहन क्षतिग्रस्त हो गया और वह पीआरवी वाहन छोड़कर भाग गया और कंट्रोल रूम को भी सूचना नहीं दी। जानकारी होने पर आरक्षी चालक को एसएसपी दिनेश कुमार प्रभु ने तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया।

काशी विश्वनाथ और अन्नपूर्णा मंदिर में दर्शन के लिए कोविड निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य

वाराणसी. कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए काशी विश्वनाथ मंदिर में कोरोना की नेगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य कर दी गई है। वाराणसी के कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने बढ़ते कोरोना संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए जन सामान्य से अपील की है कि वाराणसी आने से फिलहाल बचने। अगर कोई जरूरी कार्य न हो तो आसपास के जनपदों से लोग वाराणसी न आए और अपने घरों पर ही रहे। कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने कहा कि काशी विश्वनाथ मंदिर और अन्नपूर्णा मंदिर में भी दर्शनार्थ आने वाले भक्तों का तीन दिन पूर्व का कोरोना का आरटी पीसीआर टेस्ट नेगेटिव होना चाहिए, नहीं तो उन्हें मंदिर परिसर में प्रवेश नहीं दिया जाएगा।

दुधवा टाइगर रिजर्व में संदिग्ध हालत में मिला बघिन का शव

लखीमपुर खीरी. दुधवा टाइगर रिजर्व से कुछ दिन पहले गैंडा शिशु का शव बेलरायां रेंज में मिलने से हड़कंप मच गया था। यह स्थिति अभी सुधरी भी नहीं थी कि बुधवार को दुधवा टाइगर रिजर्व में एक बाघिन का शव संदिग्ध हालत में पाया गया। बाघिन के शरीर पर खरोंच के निशान पाए गए हैं और उसके कुछ नाखून भी क्षतिग्रस्त मिले। सूचना पर मौके पर पहुंचे वन अधिकारियों ने बाघ के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए आईवीआरआई बरेली भेज दिया। दुधवा टाइगर रिजर्व के फील्ड डायरेक्टर संजय पाठक ने कहा कि 12 अप्रैल को प्रातः काल किशनपुर वन्य जीव विहार की मैलानी रेंज के अंतर्गत बीट संख्या-37 कक्ष संख्या-4 चल्तुआ में पेट्रोलिंग पर गए स्टाफ को कठपुलिया के पास तालाब के किनारे एक मादा बाघ सुस्त अवस्था में दिखाई दी थी। पशु चिकित्सक डॉ. दयाशंकर को सूचना दी गई। इस बीच निगरानी टीम द्वारा बाघिन के आने जाने के रास्ते पर कैमरा ट्रैप लगाए गए। 13 अप्रैल को बघिन मैदान में मृत अवस्था में मिली।

ये भी पढ़ें: Quick Read: डॉक्टर ने महिला से किया दुष्कर्म, पूर्व प्रधान ने दी जान से मारने की धमकी

ये भी पढ़ें: Quick Read: खून से सनी कुल्हाड़ी लेकर थाने पहुंचा युवक, पुलिस के उड़े होश

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned