Quick Read: सोनम वांगचुक को राजधानी में मिलेगी उपाधि, 92 छात्रों को मिलेगा गोल्ड मेडल

सौर ऊर्जा के विकास के साथ सेना के जवानों के लिए लद्दाख में सूरज से गरम होने वाले हीटेड मिलिट्री टेंट बनाकर चर्चा में आए इंजीनियर व सोलर इनोवेटर सोनम वांगचुक को मानद उपाधि दी जाएगी। 26 अगस्त को बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर केंद्रीय विश्वविद्यालय के दीक्षा समारोह में मुख्य अतिथि राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द उन्हें उपाधि प्रदान करेंगे।

By: Karishma Lalwani

Published: 21 Aug 2021, 03:47 PM IST

सोनम वांगचुक को मिलेगी उपाधि

लखनऊ. सौर ऊर्जा के विकास के साथ सेना के जवानों के लिए लद्दाख में सूरज से गरम होने वाले हीटेड मिलिट्री टेंट बनाकर चर्चा में आए इंजीनियर व सोलर इनोवेटर सोनम वांगचुक को मानद उपाधि दी जाएगी। 26 अगस्त को बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर केंद्रीय विश्वविद्यालय के दीक्षा समारोह में मुख्य अतिथि राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द उन्हें उपाधि प्रदान करेंगे। कुलपति प्रो.संजय सिंह ने कहा कि 26 अगस्त को शाम चार बजे से होने वाले समारोह को लेकर तैयारियां पूरी हो गई हैं। नवें दीक्षांत समारोह में इनोवेटर व इंजीनियर सोनम वांगचुक को मानद उपाधि दी जाएगी। सोनम वांगचुक लद्दाख में सरकारी स्कूल व्यवस्था में सुधार लाने के लिए सरकार, ग्रामीण समुदायों और नागरिक समाज के सहयोग से 1994 में "आपरेशन न्यू होप" के लिए काम किया। लद्दाख में स्टूडेंट्स एजुकेशनल एंड कल्चरल मूवमेंट के लिए भी उनका नाम है।

गोरखपुर में भी विकसित हुई वैक्सीन, सात लैब तैयार

गोरखपुर. आयुर्विज्ञान अनुसंधान केंद्र (आरएमआरसी) में अब न सिर्फ प्रचलित वैक्सीन की क्षमता और उसके प्रभाव का अध्ययन कर उसे उन्नत किया जा सकेगा, बल्कि नई वैक्सीन भी बनाई जा सकेगी। एंटीबॉडी और वायरस की जीनोम सिक्वेंसिंग हो सकेगी। बाबा राघवदास मेडिकल कॉलेज परिसर में आरएमआरसी का पांच मंजिला प्रयोगशाला भवन तैयार हो गया है, इसमें बायो सेफ्टी लेवल (बीएसएल) टू प्लस की सात शोध प्रयोगशाला और दो संचार भवन हैं। सितंबर में हस्तांतरण के बाद अक्टूबर से सभी लैब में शोध शुरू हो जाएंगे। बीएसएल-3 स्तर की लैब बनाने की तैयारी भी शुरू हो गई है।

दर्शन से वापस लौट रहे थे श्रद्धालु, मौत

वाराणसी. बिहार के पटना निवासी पांच लोग वाराणसी से काशी विश्वनाथ मंदिर में दर्शन करने के बाद स्कॉर्पियो से पटना लौट रहे थे। स्कॉर्पियो की रफ्तार तेज थी। तभी सदर कोतवाली क्षेत्र के जगदीश सराय गांव के सामने नेशनल हाईवे 2 पर पहले से सड़क किनारे खड़े एक ट्रक में स्कॉर्पियो पीछे से जा घुसी। घटना के बाद चीख-पुकार सुनकर आसपास के लोग मौके पर पहुंचे। तत्काल पुलिस के साथ-साथ एनएचएआई के लोगों को सूचना दी गई। इस दौरान मौके पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से घायलों को स्कॉर्पियो से बाहर निकाला। इसमें एक की मौत हो गई जबकि चार घायल हो गए।

मालगाड़ी की चपेट में आने से दो की मौत

सुल्तानपुर. लखनऊ-वाराणसी रेल खंड अंतर्गत कोइरीपुर रेलवे स्टेशन के पास शनिवार की सुबह मालगाड़ी की चपेट में आने से दो बुजुर्गों की मौत हो गई। मरने वाले आपस में रिश्तेदार थे। दोनों पैदल रेल ट्रैक पार कर रहे थे, इसी बीच मालगाड़ी की चपेट में आ गए। चांदा कोतवाली क्षेत्र के बहरिया सोनावां निवासी मुरलीधर जायसवाल (62) शनिवार की सुबह कोइरीपुर रेलवे स्टेशन पर अपने रिश्तेदार ओमप्रकाश जायसवाल (68) निवासी सिविल लाइंस कोतवाली नगर सुल्तानपुर को लेने के लिए निकले थे। ओमप्रकाश के ट्रेन से उतरने के बाद मुरली जायसवाल उनके साथ पैदल घर जा रहे थे। रेल ट्रैक पार करते समय वे दोनों अचानक सुल्तानपुर से जौनपुर की ओर जा रही मालगाड़ी की चपेट में आ गए। मालगाड़ी की चपेट में आने से मुरली व ओमप्रकाश की मौके पर मौत हो गई। दोनों का क्षत-विक्षत शव रेल ट्रैक पर पड़ा होने की जानकारी ग्रामीणों ने जीआरपी को दी। सूचना पर जीआरपी दुर्घटनास्थल पहुंची और शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। जीआरपी उप निरीक्षक सुनील वर्मा ने कहा कि मरने वाले आपस में रिश्तेदार थे।

बाढ़ से प्रभावित गोरखपुर के 60 गांव

गोरखपुर. गोरखपुर में घाघरा, रोहिन, राप्‍ती के बाद गोर्रा नदी के खतरे निशान पार करने के बाद से 60 गांव बाढ़ के पानी से घिर गए हैं। नदियां उफान पर आईं, तो खेतों के साथ आवागमन का मार्ग भी बाधित हो गया। 30 हजार लोगों की आबादी प्रभावित हुई, तो बाढ़ प्रभावित गांवों और डूबे हुए शहर के निचले इलाकों का जायजा लेने के लिए गोरखपुर के जिलाधिकारी, एनडीआरएफ और जिला आपदा विशेषज्ञ और अन्‍य अधिकारियों के साथ बोट से बाढ़ग्रस्‍त क्षेत्रों का जायजा लेने के लिए निकल पड़े। गोरखपुर के शहर से सटे बहरामपुर, उत्‍तरी कोलिया, राजघाट, खिरवनिया, हनुमानगढ़ी, मुंडेरी चक, हनुमान चक, अमरुद मंडी, चकरा अव्वल, छपरा तोएम तिलोनिया, कठोर, पिपरी गांव, चनव गांव, बाघागाढ़ा गांवों का बोट से जायजा लिया।

सब्जी विक्रेता समेत दो की सरेआम गोली मारकर हत्या

प्रयागराज. शनिवार को दो लोगों की गोली मारकर हत्या कर दी गई। फाफामऊ में कांशीराम आवास में रहने वाले सब्जी विक्रेता विजय कन्नौजिया और लालपुर में अमित उर्फ कल्लू तिवारी की गोली मारकर हमलावरों ने हत्या कर दी। पुलिस मामले की छानबीन में जुटी गई। कांशीराम आवास योजना फाफामऊ में रहने वाला विजय कन्नौजिया रसूलाबाद में सब्जी की दुकान लगाता था। शनिवार को सुबह करीब ग्यारह बजे वह अपनी स्कूटी से सब्जी की दुकान के लिए निकला था कि कालोनी के गेट पर पहले से घात लगाए बदमाशों ने उस पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसानी शुरू कर दी। इसके बाद हमलावार भागकर कुछ दूर पर खड़ी अपनी बाइक पर सवार होकर फरार हो गए। सूचना पाकर आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए। इसी तरह लालापुर थाना क्षेत्र के नगरवार गांव में गांव निवासी अमित उर्फ कल्लू तिवारी नामक युवक की गोली मारकर हत्या की सूचना मिली है। आननफानन मे उसे एक निजी चिकित्सालय में भर्ती कराया गया जहां डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया।

ये भी पढ़ें: Quick Read: दिनदहाड़े शिक्षक पर फायरिंग, लाठी डंडे से भी हुई पिटाई

ये भी पढ़ें: Quick Read: 24 अगस्त को पीईटी परीक्षा, यूपीएसएसएससी ने जारी किए एडमिट कार्ड

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned