एग्जिट पोल: अस्थाई तेजी ने निवेशकों को कराया 3 लाख करोड़ का फायदा, कितनी टिकाऊ है यह तेजी

एग्जिट पोल: अस्थाई तेजी ने निवेशकों को कराया 3 लाख करोड़ का फायदा, कितनी टिकाऊ है यह तेजी

Saurabh Sharma | Publish: May, 20 2019 01:32:28 PM (IST) बाजार

  • आज सुबह 900 से ज्यादा अंकों की तेजी के साथ था सेंसेक्स
  • महज 60 सेकंड में 3 लाख करोड़ से ज्यादा का हुआ निवेशकों को फायदा
  • चुनाव के दौरान निवेशकों को 10 लाख करोड़ रुपए का हुआ था नुकसान

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव 2019 के नतीजो से पहले एग्जिट पोल के चौंकानें वाले नतीजों ने निवेशकों में जोश भर दिया है। एग्जिट पोल 2019 में पूर्ण बहुमत वाली सरकार बनती देख शेयर बाजार में जबरदस्त तेजी का दौर शुरु हो गया है। हफ्ते के पहले कारोबारी दिन बाजार खुलते ही सेंसेक्स में 900 अंको से ज्यादा की तेजी देखने को मिली है। खास बात ये है कि बाजार खुलने के 60 सेकंड के अंदर निवेशकों को 3 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा का फायदा हो गया। इस एग्जिट पोल के कई मायने हैं। जिसमें मोदी सरकार और बाजार में एक साथ बढ़त देखने को मिल रही है। वहीं कनेक्शन में तरह के सवाल खड़े हो रहे हैं। कहीं यह बढ़त बनावटी तो नहीं है। यह सवाल इसलिए भी है कि क्योंकि एक महीने तक शेयर बाजार में गिरावट देखने को मिली थी। साथ ही मार्केट सेंटीमेंट्स मोदी सरकार के साथ बिल्कुल भी नहीं थे। 23 तारीख को इस एग्जिट पोल का फायदा भले ही नरेंद्र मोदी एवं बीजेपी को मिले या ना मिले, लेकिन मौजूदा समय में इसका फायदा निवेशकों को जरूर मिल रहा है।

यह भी पढ़ेंः- नई सरकार की नई चुनौती: जानिए डिजिटल नीतियों को लेकर सरकार को क्या अहम कदम उठाने होंगे

आखिर बाजार क्यों है तेजी
शेयर बाजार में तेजी के कई कारण बताए जा रहे हैं। जिसमें विदेशी कारण भी शामिल हैं। जानकारों की मानें तो अमरीका में रेट कट और एशियाई मार्केट के संकेतों की वजह से शेयर मार्केट में तेजी देखने को मिल रही है। वहीं शेयर बाजार में तेजी का सबसे अहम कारण एग्जिट पोल में बीजेपी या एनडीए को पूर्ण बहुमत की सरकार बनना भी है। अगर 23 मई को चुनाव का परिणाम इससे उलट आते हैं तो शेयर बाजार में कहीं ज्यादा झटका देखने को मिलेगा। इसलिए माना जा रहा है कि यह बढ़त अस्थाई है। एग्जिट पोल आने तीन पहले तक जो आंकड़े सामने आए थे उसमें बीएसई में लिस्टेड कंपनियों को इस चुनाव में काफी नुकसान हुआ है। जिसकी रिकवरी चुनाव परिणाम आने से पहले हो सकती है।

यह भी पढ़ेंः- देश की जनता का मिजाज जानने के लिए खर्च होते हैं करोड़ों रुपए, ये कंपनियां कराती हैं एग्जिट पोल

आंकड़ों को पलटकर देखते हैं
11 अप्रैल को पहले चरण के मतदान हुआ था। उस समय के मार्केट सेंटीमेंट्स की बात करें तो मौजूदा सरकार के साथ दिखाई दे रहा था। इस बात का अंदाजा 16 अप्रैल को बीएसई के प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स को देखकर लगाया जा सकता है। 16 अप्रैल को सेंसेक्स 39364 अंकों पर बंद हुआ था। उसके बाद से मार्केट में गिरावट का ही देखने को मिली है। 13 मई को सेंसेक्स 37090.82 अंकों पर बंद हुआ है। यानी करीब एक महीने में सेंसेक्स में 2273 अंकों की गिरावट आ चुकी थी। वहीं बात मार्केट कैप की करें तो 16 अप्रैल को बीएसई का मार्केट कैप 1,54,23,532.13 करोड़ रुपए था। 13 मई तक के मार्केट कैप से तुलना करें तो निवेशकों को 9,68,506 रुपए का नुकसान हो चुका था। शेयर बाजार की स्थिति सुधार की स्थिति 16 मई के बाद से देखने को मिली।

यह भी पढ़ेंः- एग्जिट पोल में एनडीए की जीत से झूमा शेयर बाजार, सेंसेक्स में 900 अंकों की बढ़त, निफ्टी 11,700 कग तक पहुंचा

60 सेकंड में 3.18 लाख करोड़ का फायदा
एग्जिट पोल आने के अगली सुबह यानी आज शेयर बाजार में 900 से ज्यादा अंकों की बढ़त देखने को मिल रही है। इस बढ़त की वजह से निवेशकों को 60 सेकंड में 3.18 लाख करोड़ रुपए का फायदा हुआ है। जब शेयर मार्केट खुला तो उस वक्त सेंसेक्स 900 अंकों की बढ़त पर पहुंच गया। जिससे सेंसेक्स का मार्केट 1,49,76,896 करोड़ पर पहुंच गया। जबकि शुक्रवार को सेंसेक्स का मार्केट कैप 1,46,58,710 करोड़ रुपए था। यानी 3,18,186 करोड़ रुपए का फायदा बीएसई की लिस्टेड कंपनियों को फायदा पहुंचा है। वहीं बीते तीन कारोबारी सत्रों से तुलना करें तो शेयर बाजार को 5.39 लाख करोड़ रुपए का फायदा हुआ है।

यह भी पढ़ेंः- Patrika Business News Watch: पोस्ट पोल सर्वे के बाद शेयर मार्केट से लेकर कारोबार की सभी खबरों पर रहेगी सभी की नजर

इस बढ़त पर क्या कहते हैं एक्सपर्ट
पोस्ट पोल सर्वे में एनडीए तो तमाम सर्वों में बढ़त दी है। जहां चाणक्य 350 सीटें एनडीए को दे रहा है, तो टाइम्स नाउ-वीएमआर 306 सीटें। जिसके बाद एक्सपर्ट और कॉरपोरेट सेक्टर के जाने माने लोग भी थोड़े चौंके हुए हैं। मोती ओसवाल फाइनेंशियल सेर्विसेज के सीएमडी मोतीलाल ओसवाल कहना है कि सर्वे का रिजल्ट उम्मीद से बेहतर है। आने वाले दो से तीन दिनों में शेयर बाजार 2 से 3 फीसदी तक और आगे जा सकता है।

यह भी पढ़ेंः- अपनी 800 से 900 शाखाओं को बंद कर सकता है बैंक ऑफ बड़ौदा

शेयर बाजार में में जबरदस्त तेजी
पोस्ट पोल सर्वे में नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली एडीए सरकार बनते देख निवेशकों में जबरदस्त जोश देखने को मिल रहा है। जहां बांबे स्टॉक एक्सचेंज के प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स में मौजूदा समय में 685.96 अंकों की बढ़त के साथ 38616.73 अंकों पर कारोबार करती हुई दिखाई दे रही है। वहीं दूसरी ओर नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के प्रमुख सूचकांक निफ्टी 202.90 अंकों की तेजी के साथ 11610.05 अंकों पर कारोबार करता हुआ दिखाई दे रहा है।

 

Business जगत से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter पर और पाएं बाजार, फाइनेंस, इंडस्‍ट्री, अर्थव्‍यवस्‍था, कॉर्पोरेट, म्‍युचुअल फंड के हर अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News App.

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned