Panchayat chunav मास्क की आड़ में फर्जी वोटिंग रोकने को प्रशासन ने बनाया प्लान

कमिश्नर सुरेंद्र सिंह ने अवैध शराब बिक्री रोकने को लेकर दिए निर्देश
बूथ में पोलिंग पार्टियों के रूकने का इंतजाम करेगा बीएसए विभाग
संवेदनशील, अति संवेदनशील बूथों पर विशेष निगरानी

By: shivmani tyagi

Published: 12 Apr 2021, 06:42 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
मेरठ meerut news मंडलायुक्त सुरेंद्र सिंह ने कहा है कि मास्क की आड़ में फर्जी वोटिंग रोकना प्रशासन के लिए चुनौती है। इसलिए इसके लिए विशेष उपाय किए जाएं। उन्होंने यह भी कहा कि किसी भी हालत में फर्जी वोटिंग न हो पाए। इसके अलावा उन्होंने जनपदों में अवैध शराब की बिक्री रोकने के भी निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें: यूपी में कोरोना से बिगड़ते हालात के बीच लखनऊ में कोविड अस्तपाल के बिस्तर भी हो रहे 'भगवा'

अपने निर्देशों में उन्हाेंने कहा है कि किसी क्षेत्र में सरकारी ठेके पर शराब की बिक्री बढ़ी है इसका मतलब वहां शराब बांटे जाने की आशंका बढ़ रही है। जहां शराब की बिक्री बिल्कुल भी न बढ़ी हो वहां अवैध शराब पहुंचने की आशंका बन जाती है। दोनों ही मामलों में सख्ती से निगरानी की जाए। उन्होंने कहा कि मतदान के दौरान अंगुली से कोई भी अमित स्याही को न मिटा सके। पोलिंग पार्टियों के रूकने और सुविधाओं की जिम्मेदारी बीएसए विभाग की होगी। बीएसए विभाग यह तय करें कि डयूटी पर गए पोलिंग पार्टियों को कोई परेशानी न हो।

यह भी पढ़ें: पुलिस प्रशासन ने जेसीबी मशीनों की मदद से ध्वस्त करा दिया अटल चौक, नगर पालिका पर लगाया यह आरोप

पंचायत चुनाव की वीडियो कांफ्रेंसिंग से मंडलीय समीक्षा बैठक के दौरान एनआइसी में अफसरों को निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि निष्पक्ष, पारदर्शिता, सुरक्षित एवं शान्तिपूर्वक पंचायत चुनाव संपन्न कराने के लिए अफसरों को गंभीरता दिखानी होगी। संवेदनशील, अति संवेदनशील मतदान केन्द्रों पर विशेष निगरानी हेतु पर्याप्त पुलिस बल की तैनाती, सीसीटीवी कैमरे, वीडियोग्राफी आदि की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। बुर्के और घूंघट की आड़ में फर्जी मतदान रोकने के लिए महिला पुलिस बल पर्याप्त संख्या में तैनात किया जाए।

यह भी पढ़ें: बेटी के गायब हाेने पर दराेगा ने किया इतना अपमान, क्षुब्ध होकर गरीब किसान ने लगा ली फांसी

मतदान में व्यवधान उत्पन्न करने वालों को चिन्हित करके उनके विरुद्ध पहले ही कार्रवाई कर दी जाए उन्होंने कहा कि प्रत्याशियों के पोलिंग एजेंट स्वच्छ छवि के हों। अवैध शराब के आवागमन को रोकने के लिए सख्ती से चेकिंग की जाए। पिछले कुछ महीनों में कारतूसों की बिक्री का भी सत्यापन जरूर करा लिया जाए। उन्होंने मतदान केंद्रों पर कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए इंतजाम करने का निर्देश दिया। मास्क, हैंड सैनिटाइजर तथा शारीरिक दूरी का पालन सुनिश्चित कराया जाए। बैठक में जिलाधिकारी के बालाजी, एसएसपी अजय साहनी, सीडीओ शशांक चौधरी, जिला आबकारी अधिकारी आलोक कुमार, बीएसए सत्येंद्र ढाका, मुख्य अभियंता पावर कारपोरेशन, जिला कमांडेंट होमगार्ड के साथ सभी जनपदों के अधिकारी आनलाइन शामिल रहे।

यह भी पढ़ें: OMG पीने के लिए शराब नहीं मिली ताे इकलाैते बेटे ने कर दिया पिता का कत्ल

यह भी पढ़ें UP मामूली गलती पर छोटी बहन की पीट-पीटकर हत्या, शव नाले में दबाया तो ऐसे खुली वारदात

यह भी पढ़ें: आजकल क्यों लग रहे हैं कुछ भी छूने से बिजली जैसे करंट के झटके ? एक्सपर्ट से जानिए वजह

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned