कलियुग : शराब के लिए पैसे नहीं देने पर कर दिया पिता का कत्ल

बेटे ने कर दी हत्या अब भतीजा दिलवाएगा हत्यारोपी बेटे काे सजा अंतिम संस्कार के बाद भतीजे ने कराई हत्यारोपी के खिलाफ थाने में रिपाेर्ट दर्ज

By: shivmani tyagi

Published: 12 Apr 2021, 09:22 AM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

बिजनाैर Bijnor

'एक शराबी का काेई विश्वास नहीं होता, शराब के लिए वह कुछ भी कर सकता है और किसी भी हद तक जा सकता है' इस कहावत काे बिजनाैर के एक शराबी बेटे ने चरितार्थ कर दिया। शराब के लिए पैसे नहीं दिए ताे बेटे ने अपने पिता की बेरहमी से गला दबाकर murder हत्या कर दी।

यह भी पढ़ें: एसएसपी ने रिश्वतखोर चाैकी प्रभारी समेत तीन पुलिसकर्मी को निलंबित, जानिए कैसे खुला मामला

पिता के साथ-साथ पवित्र रिश्ते का कत्ल father murder करके आरोपी भाग गया। बाद में नशा उतरने पर वह खुद पुलिस चाैकी पहुंचा और पुलिस काे पूरी घटना बताई। सूचना पर पहुंची पुलिस Bijnor Police ने शव काे पाेस्टमार्टम के लिए भिजवाया। अब मृतक के भतीजे ने मृतक के हत्यारोपी बेटे यानि अपने चचेरे भाई के खिलाफ पुलिस काे तहरीर दी है। अब भतीजा अपने चाचा की हत्या के आरोप में चचेरे भाई के खिलाफ दर्ज केस की पैरवी करेगा।

यह भी पढ़ें: नाेएडा की झुग्गी-झोपड़ियों में लगी भयंकर आग, दो मासूम जिंदा जले, 17 गाड़ियां आग बुझाने में जुटी

up crime घटना बिजनाैर के थाना नूरपूर क्षेत्र के गांव अस्करीपुर की है। इसी गांव का रहने वाला 75 वर्षीय चेतराम जाे सिंचाई विभाग से रिटायर्ड था अपने बेटे की शराब पीने की लत से परेशान था। सेवानिवृत्ति के बाद से चेतराम अपने इकलाैते बेटे के साथ गांव में रह रहा था। बेटा सुधीर हर रोज पिता से शराब के लिए पैसों की डिमांड करता था। इसी बात काे लेकर रविवार काे बाप-बेटे के बीच विवाद हाे गया है। पिता ने पैसे देने से इंकार किया तो बेटे ने पहले अपने पिता काे जमकर पीटा फिर उसकी गला दबाकर हत्या कर दी।

यह भी पढ़ें: मर्सिडीज से पर्चा दाखिल करने पहुंचा प्रत्याशी, सवा करोड़ रुपये है कार की कीमत

यह भी पढ़ें: अनोखा दरबार जहां मांगी गई मन्नत पूरी हाेने पर हिन्दू-मुस्लिम सभी चढ़ाते हैं मुर्गा

यह भी पढ़ें: पंचायत चुनाव में दावतों के दाैर ने बढ़ा दिए मुर्गों के दाम, 120 में मिलने वाला मुर्गा 200 के पार

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned