बेटी के गायब होने पर दराेगा ने किया इतना अपमानित लड़की के पिता ने लगा ली फांसी

सुसाइड नोट लिखकर लड़की के पिता ने लगा ली फांसी तो दरोगा ने घटना छुपाने के लिए सुसाइड नोट फाड़ा, ग्रामीणों ने बोल दिया पुलिस पर हमला

By: shivmani tyagi

Updated: 12 Apr 2021, 05:54 PM IST

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क

बरेली Bareilly आंवला गांव के रहने वाली एक लड़की नाटकीय ढंग से लापता हो गई। दो दिन बाद भी कोई सुराग नहीं लगा तो पिता अपहरण की रिपोर्ट लिखाने पुलिस चौकी पहुंचा। आरोप है कि दरोगा ने लड़की के पिता को अपमानित करके लौटा दिया। इस घटना से क्षुब्ध लड़की के पिता ने फांसी लगाकर Suicide आत्महत्या कर ली। जब इस बात का पता ग्रामीणों को चला तो उनका गुस्सा फूट पड़ा और गुस्साए ग्रामीणों ने पुलिस पर हमला बोल दिया। बाद में माैके पर पहुंचे पुलिस के आला अफसराें ने किसी तर ग्रामीणाें काे समझा-बुझाकर शांत किया।

यह भी पढ़ें: दवा से ठीक होगा मल्टीपल फ्रैक्चर, रक्त के माध्यम से जुड़ेगी टूटी हड्डियां

घटनाक्रम के अनुसार आवंला गांव के एक किसान की बेटी आठ अप्रैल नाटकीय ढंग से लापता हो गई थी। काफी तलाश की गई लेकिन लड़की का कोई पता नहीं चला। थक हारकर पिता को पुलिस से आस जगी और वह पुलिस चौकी पहुंचा। चौकी प्रभारी दरोगा ने लड़की के पिता को भला-बुरा कहा और लड़की के चरित्र पर टिप्पणी करते हुए पिता को अपमानित कर वापस भेज दिया। इस घटना से लड़की का पिता इतना आहत हुआ कि उसने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मरने से पहले किसान ने एक सुसाइड नोट भी छोड़ा जिसमें उसने पुलिस की अभद्रता के बारे में भी लिखा।

यह भी पढ़ें: पहले ही कर लें इंतजाम, कल से तीन दिन तक बंद रहेंगी सभी शराब की दुकानें

ग्रामीणों के मुताबिक जब इस बात का पता पुलिस को चला तो चौकी इंचार्ज मौके पर पहुंचे और सुसाइड पढा। सुसाइड नोट में जब दरोगा ने अपना नाम पढ़ा तो उसे फाड़ दिया। पुलिस की इस हरकत पर ग्रामीण गुस्सा हो गए और गुस्साए ग्रामीणों ने पुलिस bareilly police को घेर लिया। इस तरह गुस्साए ग्रामीणों ने आरोपी चौकी इंचार्ज को बंधक बना लिया। दरोगा को बंधक बनाए जाने की सूचना मिलने पर चौकी से अन्य पुलिसकर्मी गांव पहुंचे और दरोगा को छुड़ाने की कोशिश की तो गुस्साए ग्रामीणों ने पुलिस को पीट दिया पथराव कर दिया। इस हमले में दो पुलिसकर्मी चोटिल हो गए।

यह भी पढ़ें: हैरतअंगेज : 'भगवान' के सामने ही ने 'रहमान' ने 'राम' को पटककर मार डाला...

ग्रामीणों के अनुसार किसान ने अपने सुसाइड नोट में दरोगा पर रिश्वत मांगने का भी आरोप लगाया। जब पुलिस पर हमले की खबर मिली तो एसपी देहात राजकुमार अग्रवाल गांव पहुंचे और किसी तरह ग्रामीणों को समझा-बुझाकर शांत किया। एसपी ने भरोसा दिलाया कि चौकी इंचार्ज के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी। क्षेत्रीय विधायक धर्मपाल सिंह भी मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों को भरोसा दिलाया कि इस पूरे मामले को गंभीरता से लिया जाएगा और आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई कराई जाएगी इसके बाद ग्रामीणों का गुस्सा शांत हो सका।

यह भी पढ़ें: आजकल क्यों लग रहे हैं कुछ भी छूने से बिजली जैसे करंट के झटके ? एक्सपर्ट से जानिए वजह

यह भी पढ़ें: मर्सिडीज से पर्चा दाखिल करने पहुंचा प्रत्याशी, सवा करोड़ रुपये है कार की कीमत

यह भी पढ़ें:अनोखा दरबार जहां मांगी गई मन्नत पूरी हाेने पर हिन्दू-मुस्लिम सभी चढ़ाते हैं मुर्गा

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned