अदालत का निर्देश, शेहला रशीद के खिलाफ जारी किया जाए 10 दिन की पूर्व-गिरफ्तारी का नोटिस

  • शेहला रशीद के खिलाफ गिरफ्तारी का नोटिस होगा जारी
  • राजद्रोह के मामले में जारी होगा गिरफ्तारी नोटिस
  • शेहला ने भारतीय सेना के खिलाफ किया था ट्वीट

नई दिल्ली। जेएनयू की पूर्व छात्रा और कश्मीरी नेता शेहला रशीद को लेकर बड़ी खबर सामने आ रही है। दिल्ली पटियाला हाउस कोर्ट ने शुक्रवार को दिल्ली पुलिस को निर्देश दिया कि अगर राजद्रोह के मामले में शेहला रशीद की गिरफ्तारी की जरूरत है तो उनके खिलाफ 10 दिन की पूर्व-गिरफ्तारी का नोटिस जारी किया जाए।

यह भी पढ़ें-महाराष्ट्र में सरकार गठन: शिवसेना, NCP और कांग्रेस के नेता कल राज्यपाल से मिलेंगे

अग्रिम जमानत अर्जी निस्तारण

पटियाला हाउस कोर्ट ने शेहला की अग्रिम जमानत अर्जी को भी निस्तारण कर दिया, जिसमें उन्होंने बताया गया था कि जांच प्रारंभिक स्तर पर है। बता दें कि दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने बीते 10 सितंबर को शेहला के खिलाफ ट्विटर पर भारतीय सेना पर झूठे आरोप लगाने के मामले में एफाआईआर दर्ज की थी।

शेहला ने सेना पर लगाए के गंभीर आरोप

जेएनयू की पूर्व छात्रा और कश्मीरी नेता शेहला रशीद (Shehla Rashid) पर भारतीय सेना के खिलाफ भर्जी खबर फैसाले का आरोप है। दरअसल, शेहला रशीद ने जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद भारतीय सेना के खिलाफ एक के बाद एक 10 ट्वीट किए थे। अपने ट्वीट में शेहला ने कहा था कि भारतीय सेना घाटी के लोगों पर अत्याचार कर रही है।

यह भी पढ़ें-Delhi Ncr में प्रदूषण को लेकर SC सख्त, कहा- चीन और जापान से क्यों नहीं लेते सीख?

सेना ने शेहला के सभी दावों को खारिज करते हुए कहा कि वह फेक न्यूज फैला रही हैं। सेना ने उनके सभी आरोपों को बेबुनियाद बताया था। भारतीय सेना ने कहा था कि कुछ असामाजिक तत्व और संगठन गलत ख़बरें फैलाकर घाटी के लोगों को भड़काने की कोशिश कर रहे हैं।

Shivani Singh
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned