scriptFor Covid patient recruitment antigen report is sufficient | अस्पताल में भर्ती लिए आरटीपीसीआर टेस्ट जरूरी नहीं, एंटीजन रिपोर्ट को भी मान्य माना | Patrika News

अस्पताल में भर्ती लिए आरटीपीसीआर टेस्ट जरूरी नहीं, एंटीजन रिपोर्ट को भी मान्य माना

locationनई दिल्लीPublished: Apr 23, 2021 07:09:09 pm

Submitted by:

Mohit Saxena

लखनऊ प्रशासन ने केवल आरटीपीसीआर ही नहीं, एंटीजन रिपोर्ट को भी मान्य बताया है। इस रिपोर्ट की मदद से लोग अस्पताल जा सकेंगे।

coronavirus
नई दिल्ली। यूपी में कोरोना संक्रमण के मामले काफी तेजी से बढ़ रहे हैं। ऐसे में पिछले दिनों आम बीमारी और कोविड-19 के लक्षण वाले मरीजों को अस्पताल में एडमिट होने के लिए आरटीपीसीआर टेस्ट जरूरी कर दिया गया था। इस नियम के कारणं आम जनता को समस्या का सामना करना पड़ रहा है। मगर अब लखनऊ प्रशासन ने केवल आरटीपीसीआर ही नहीं, एंटीजन रिपोर्ट को भी मान्य बताया है। इस रिपोर्ट की मदद से लोग अस्पताल जा सकेंगे।
यह भी पढ़ें

क्या RT-PCR टेस्ट में निगेटिव रिपोर्ट का कारण म्यूटेंट है? विशेषज्ञ ने दिया सटीक जवाब

प्रशासन ने इस संबंध में अफसरों को निर्देश दिए हैं। अभी तक एंटीजन रिपोर्ट को अस्पताल में मान्य नहीं माना गया था। इस कारण कई मरीज ऐसे थे जिनके सभी लक्षण कोविड के थे, लेकिन रिपोर्ट निगेटिव थी। ऐसे मरीजों को भर्ती नहीं किया जा रहा था।
मरीज को बेड खाली होने पर तुरंत भर्ती करा जाए

लखनऊ के डीएम ने बताया कि उन्होंने निर्देश दिया है कि किसी भी मरीज को बेड खाली होने पर तुरंत भर्ती करा जाए। अब उनका लक्षण के आधार पर इलाज शुरू करना होगा। इसके साथ एंटीजन रिपोर्ट को भी मान्य माना जाएगा, जितनी की आरटीपीसीआर होती है। प्रभारी डीएम ने गैर कोविड मरीजों को भी भर्ती करने के निर्देश दिए हैं।
बीते 24 घंटे में ही यूपी में 37238 नए कोरोना संक्रमण के मामले

कोरोना संक्रमण के मामलों ने एक पूरे प्रदेश में कहर बरपा रखा है। बीते 24 घंटे में ही यूपी में 37238 नए कोरोना संक्रमण के मामले मिले हैं। वहीं 196 लोगों ने अपनी जान गवां दी है। राजधानी लखनऊ में 5682 नए संक्रमित मिले हैं। इससे पहले गुरुवार को आए आंकड़ों के अनुसार बीते 24 घंटे में प्रदेश में 34379 नए कोरोना संक्रमित मामले सामने आए। जबकि 195 लोगों को जान जा चुकी है। ये अब तक का एक रिकॉर्ड है।

ट्रेंडिंग वीडियो