ICMR का खुलासा: 30 दिनों में 406 लोगों को संक्रमित कर सकता है कोरोना वायरस का मरीज

  • देश में बीते 24 घंटे में कोरोना वायरस के 354 नए मामले सामने आए
  • देश में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या बढ़कर हुई 4421

नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस ( Coronavirus in india ) के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ( Ministry of Health ) ने मंगलवार को कहा कि देशभर में बीते 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण ( Coronavirus Infection ) के 354 नए मामले सामने आए हैं और इस दौरान इस वैश्विक महामारी ( Global epidemic) से आठ लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ी है।

वहीं, भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद ( ICMR ) के एक हालिया अध्ययन से पता चलता है कि अगर कोरोना वायरस का रोगी ( Coronavirus patient ) लॉकडाउन के आदेशों का पालन नहीं करता है या सोशल डिस्टेंसिंग ( Social distancing ) को नहीं मानता तो वह 30 दिनों में 406 लोगों को संक्रमित कर सकता है।

अमरीका को हाइड्रोक्सिलक्लोरोक्विन के निर्यात पर राहुल गांधी ने जताई नाराजगी, मोदी सरकार पर उठाया सवाल

 

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने जानकारी देते हुए बताया कि अब तक देश में कोरोना वायरस के 4421 मरीज मिले हैं, इनमें पिछले 24 घंटे में मिले 354 संक्रमित लोग भी शामिल हैं।

वहीं, 326 संक्रमित लोगों के ठीक होने के बाद उनको हॉस्पिटल से डिस्चार्ज कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि देश में कोरोना हॉटस्पोट से निपटने के लिए सरकार कलस्टर कंटेनमेंट प्लानिंग को अपना रही है।

इस रणनीति से सकारात्मक परिणाम निकल कर आए हैं। इस प्लान को खास तौर पर आगरा, गौतम बौद्ध नगर, पठानमथिट्टा, भीलवाड़ा और पूर्वी दिल्ली में लागू किया गया है।

Coronavirus: दिल्ली में 82 साल के बुजुर्ग ने कोरोना को हराया, हॉस्पिटल से किया गया डिस्चार्ज

 

लव अग्रवाल ने आगे बताया कि कोरोना संक्रमण को ध्यान में रखते हुए भारतीय रेलवे ने 2,500 डिब्बों में 40,000 आइसोलेशन बेड तैयार किए हैं।

इसके साथ ही प्रतिदिन 375 आइसोलेशन बेड बनाए जा रहे हैं। यह कार्य देश भर में 133 स्थानों पर चल रहा है।

VIDEO: प्रधानमंत्री आवास में बंद हुईं लाइट्स, कोरोना के योद्धाओं के नाम मोदी ने जलाया दीया

 

वहीं, एक्सपर्ट्स की मानें तो कोरोना वायरस का मरीज एक दिन में कम से कम 2.3 लोगों को संक्रमित कर सकता है। दरअसल, मेडिकल साइंस में इसको R-Nought वैल्यू कहा जाता है।

यह किसी वायरस की रि-प्रॉडक्टिव नंबर होता है। जैसे किसी वायरस की R-Nought वैल्यू एक है तो उसका मरीज एक दिन एक ही व्यक्ति को संक्रमित कर सकता है।

इसी तरह कोविड-19 की R-Nought वैल्यू 2.3 है।

VIDEO: कोरोना से जंग में बेटे के साथ खड़ी हैं PM मोदी की मां हीराबेन, जलाया दिया

 

Mohit sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned