World Youth Skill Day: युवाओं को PM Modi का संदेश, स्किल आपको दूसरों से अलग बनाता है, लगातार बदलाव जरूरी

  • World Youth Skill Day 2020 पर PM Modi ने किया युवाओं को संबोधित
  • Digital conclave में बोले- पीएम मोदी, Skill आपको दूसरों से अलग बनाती है
  • स्किल में लगातार बदलाव जरूरी है, आगे बढ़ने का मूल मंत्र भी लगातार नया सीखना है

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( PM Narendra Modi ) ने बुधवार को वर्ल्ड यूथ स्किल डे ( World Youth Skill Day ) के मौके पर युवाओं को संबोधित किया। इस दौरान पीएम मोदी ने युवाओं को संदेश देते हुए कहा कि कौशल अद्वितीय है, यह आपको दूसरों से अलग बनाता है। स्किल इंडिया मुहिम ( Skill India Mission ) के पांच साल पूरे होने पर आयोजित कार्यक्रम में पीएम मोदी संबोेधित कर रहे थे।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज का दिन 21वीं सदी के युवाओं को समर्पित है। कौशल ( Skill ) युवाओं की सबसे बड़ी ताकत है। वक्त के साथ स्किल में भी कई बदलाव आए हैं। हमारे युवा कई नई बातों को अपना रहे हैं।

बीजेपी के दिग्गज नेता को हुआ कोरोना, परिवार पर भी टूटा महामारी का प्रकोप

कोरोना संकट के बीच आई दिल छू लेने वाली वीडियो, देखकर आप भी हो जाएंगे भावुक

वक्त के साथ नए स्किल सीख रहे युवा
पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि हमारे युवा हर दिन बदलते वक्त के साथ नए स्किल सीख रहे हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना के इस संकट ने वर्ल्ड कल्चर के साथ ही नेचर ऑफ जॉब को भी बदलकर रख दिया है।

छोटी-छोटी स्किल बनेंगी आत्मनिर्भर भारत की ताकत
पीएम ने कहा कि देश में अब श्रमिकों की मैपिंग का काम शुरू किया गया है, जिससे लोगों को आसानी होगी। अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि छोटी-छोटी स्किल ही आत्मनिर्भर भारत की शक्ति बनेंगी।

स्किल को मजबूत करना ही आगे बढ़ने का मंत्र
पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना संकट में लोग पूछते हैं कि आखिर इस दौर में कैसे आगे चला जाए। इसका एक ही मंत्र है कि, आप स्किल को मजबूत बनाएं। अब आपको हमेशा कोई नया हुनर सीखना होगा।

नया सीखने की ललक जरूरी
पीएम ने कहा कि हर सफल व्यक्ति को अपने स्किल को सुधारने का मौका सीखना चाहिए। अगर कुछ नया सीखने की ललक नहीं है तो जीवन ठहर जाता है। इसलिए नया सीखने की ललक जरूरी है।

जीप ठीक करने वाले का उदाहरण
पीएम जीप ठीक करने वाले का उदाहरण भी दिया। उन्होंने कहा मैं एक संस्था के साथ काम करता था, तब हम जीप में जा रहे थे। जीप खराब हो गई, सभी ने जीप में धक्के मारे लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ। तब मैकेनिक को बुलाया उसने दो मिनट में ठीक कर दी। उसने बदले में बीस रुपये मांगे। हमने पूछा इतना ज्यादा क्यों? तो उसने जवाब दिया मैं दो मिनट के काम का पैसा नहीं ले रहा हूं, बल्कि बीस साल से जो काम करके अनुभव जुटाया है उसका पैसा ले रहा हूं।

पीएम मोदी ने कही ये बातें-
- भारत में स्किल और ज्ञान में अंतर करते हुए काम किया जा रहा है।
- लगातार स्किल में करना होगा बदलाव, यही समय की मांग
- मेरे जानने वाले की हैंडराइटिंग बहुत अच्छी थी, उन्होंने इसमें काफी बदलाव किए, नतीजा उन्हें बहुत काम मिला
- हर किसी में अपनी एक क्षमता होती है, जो दूसरों से आपको अलग बनाती है।
- अगर स्किल को सीखते रहेंगे तो जीवन में उत्साह बनेगा, कोई किसी भी उम्र में स्किल सीख सकता है।

पीएम मोदी की महत्वकांक्षी योजनाओं में से एक स्किल इंडिया मिशन को आज पांच साल पूरे हो गए हैं। इस मौके पर स्किल डेवलपमेंट मंत्रालय की ओर से डिजिटल कॉन्क्लेव का आयोजन किया गया है। स्किल इंडिया, मोदी सरकार की एक पहल है जो देश के युवाओं के स्किल को बढ़ाने के साथ उन्हें सशक्त बनाने के लिए शुरू की गई है।

PM Narendra Modi
धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned