Serum Institute ने तय की वैक्सीन की कीमत, जानिए निजी और सरकारी अस्पतालों को कितने में मिलेगी

Serum Institute of India ने की वैक्सीन के दामों की घोषणा, अब निजी और सरकारी अस्पतालों को चुकानी होगी इतनी कीमत

नई दिल्ली। देश में बढ़ रहे कोरोना वायरस खतरे के बीच बड़ी खबर सामने आई है। कोरोना वैक्सीन बना रहे सीरम इंस्टीट्यूट (Serum Institute) ने टीके की कीमत तय कर दी है। इसको लेकर कंपनी की ओर से घोषणा की गई है। दरअसल एक दिन पहले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वैक्सीनेशन को लेकर देश की बड़ी दवा कंपनियों और वैक्सीनेशन मैन्युफेक्चरर से अहम बातचीत की थी।

इस बातचीत के बाद ही सीरम इंस्टीट्यूट ने अपनी वैक्सीन की कीमतों के दाम तय कर दिए हैं। आइए जानते हैं कि निजी और सरकारी अस्पतालों में क्या रहेंगे दाम।

यह भी पढ़ेँः देश में Corona की दूसरी लहर का कहर, पहली बार दो हजार मौत के साथ फिर सामने आए रिकॉर्डतोड़ नए केस

ये होगी कोविशील्ड की कीमत
कोविशील्ड वैक्सीन बना रही सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (Serum Institute of India) ने बयान जारी कर कहा, कि 'भारत सरकार के निर्देशों के बाद हम कोविशील्ड वैक्सीन (Covishield Vaccine) की कीमतों की घोषणा कर रहे हैं।

राज्य सरकारों के लिए प्रति डोज की कीमत 400 रुपए और प्राइवेट अस्पतालों के लिए प्रति डोज की कीमत 600 रुपए होगी।

केंद्र और राज्य सरकारों के 50-50 फीसदी
सीरम इंस्टिट्यूट के मुताबिक वैक्सीन डोज का 50 फीसदी स्टॉक सीधे केंद्र सरकार को भेजा जाएगा, जबकि शेष 50 फीसदी डोज राज्य सरकारों और निजी अस्पतालों को भेजे जाएंगे।

4-5 महीने में वैक्सीन रीटेल मार्केट में उपलब्ध होगी
कंपनी के मुताबिक अभी हर कंपनी को वैक्सीन की आपूर्ति करना संभव नहीं है और उन्हें सरकारी और निजी अस्पतालों के जरिए वैक्सीन लेनी चाहिए। 4-5 महीने बाद वैक्सीन रीटेल और ओपन मार्केट में उपलब्ध होगी।

यह भी पढ़ेँः कोरोना के बढ़ती रफ्तार के बीच अब इस राज्य ने भी लिया लॉकडाउन का फैसला, यहां लगा सात दिन का कंप्लीट लॉकडाउन

आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने हाल ही में 18 साल से अधिक उम्र के लोगों को 1 मई से वैक्सीन लगाने की घोषणा की थी। इसके साथ ही सरकार ने कहा था कि वैक्सीनेशन अभियान के तीसरे चरण के तहत वैक्सीन निर्माता अपनी सेंट्रल ड्रग्स लैबोरेटरी ( CDL ) से हर महीने जारी डोज की 50 फीसदी आपूर्ति केंद्र सरकार को देंगे, जबकि बाकी 50 प्रतिशत आपूर्ति को वे राज्य सरकारों को और खुले बाजार में बेचने के लिए स्वतंत्र होंगे।

इतना ही नहीं सरकार की ओर से ये भी साफ किया गया कि वैक्सीन उत्पादकों को राज्य सरकारों को और खुले बाजार में उपलब्ध होने वाली 50 फीसदी आपूर्ति की कीमत 1 मई, 2021 से पहले घोषित करनी होगी। माना जा रहा है कि इसी निर्देश के बाद सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया ने अपनी वैक्सीन की कीमतों की घोषणा की है।

धीरज शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned