अब आपके चोरी हुए मोबाइल का मिनटों में लगेगा पता, मोदी सरकान ने शुरू की नई सेवा

अब आपके चोरी हुए मोबाइल का मिनटों में लगेगा पता, मोदी सरकान ने शुरू की नई सेवा

Pratima Tripathi | Updated: 17 Sep 2019, 01:23:57 PM (IST) ऐप

  • केंद्र सरकार ने CEIR प्रोजेक्ट किया शुरू
  • Mobile चोरी होते ही कर सकते हैं पुलिस और दूरसंचार विभाग से शिकायत

नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने लोगों की मदद करने के लिए एक साथ पोर्टल शुरू किया है, जिसकी मदद से आप अपने चोरी या खोए हुए स्मार्टफोन को बड़ी आसानी से खोज सकते हैं। इस पोर्टल को मुंबई में केंद्रीय दूरसंचार मंत्री रविशंकर प्रसाद शुक्रवार को लॉन्च किया है। इसकी मदद से चोरी या खो हुए मोबाइल को हर नेटवर्क पर ब्लॉक कर सकते हैं। इतना ही नहीं इसके जरिए फोन को ट्रेस भी कर सकते हैं।

ऐसे करें शिकायत दर्ज

अगर आपका मोबाइल चोरी या फिर गुम हो गया है तो सबसे पहले एफआईआर दर्ज करें और फिर हेल्पलाइन नंबर 14422 पर कॉल कर दूरसंचार विभाग (DoT) को जानकारी देनी होगी। इसके बाद वेरिफिकेशन करके आपके फोन को ब्लैक कर दिया जाएगा। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक अगर आपके गुम मोबाइल में कोई नया सिम डालता है तो सर्विस प्रोवाइडर नए यूजर की पहचान करके पुलिस को सूचित कर देगा, जिसकी मदद से मोबाइल को खोजा जा सकेगा।

यह भी पढ़ें- कल Samsung Galaxy M30s भारत में होगा लॉन्च, 6000mah बैटरी से है लैस

बता दें कि मोबाइल की पहचान के लिए फोन में एक IMEI नंबर दिया जाता है जो रिप्रोग्रामेबल है। यही वजह है कि फोन चोरी होने के बाद IMEI नंबर को रिप्रोग्राम कर दिया जाता है,जिस वजह से IMEI की क्लोनिंग होती है। विभाग के अनुसार नेटवर्क में क्लोन/ नकली IMEI हैंडसेट के कई मामले हैं। यही वजह है कि केंद्र सरकार ने CEIR प्रोजेक्ट शुरू किया है। बता दें कि संचार विभाग 2017 से CEIR पर काम कर रहा है और इसमें 2017 के बाद से भारत में सभी IMEI नंबरों का डेटाबेस होगा।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned