भारत को सॉफ्टवेयर हब बनने की जरूरत- आईटी सचिव

भारत को सॉफ्टवेयर हब बनने की जरूरत- आईटी सचिव

Vishal Upadhayay | Updated: 28 Aug 2019, 12:54:00 PM (IST) ऐप

  • माइक्रोसॉफ्ट इंडिया ने 'डिजिटल गर्वनेंस टेक टूर' की घोषणा की
  • भारत एक प्रमुख मोबाइल फोन निर्माता बन चुका है

नई दिल्ली: इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के सचिव अजय प्रकाश साहनी ने मंगलवार को कहा कि भारत को प्रमुख सॉफ्टवेयर उत्पादक बनने पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए। माइक्रोसॉफ्ट द्वारा आयोजित डिजिटल गर्वनेंस टेक समिट 2019 में सचिव ने कहा, "यह हमारे लिए सॉफ्टवेयर उत्पादों की ओर बढ़ने का समय है। हम सॉफ्टवेयर के उपभोक्ता रहे हैं, लेकिन सॉफ्टवेयर निर्माता नहीं। यह भारत को एक सॉफ्टवेयर उत्पादक राष्ट्र बनाने समय है।"

साहनी ने कहा कि भारत एक प्रमुख मोबाइल फोन निर्माता बन चुका है और ज्यादातर स्थानीय मांग को पूरा कर रहा है और अब सरकार का जोर मोबाइल और इलेक्ट्रॉनिक कल-पुर्जो के उत्पादन पर जोर देने का है।

उन्होंने कहा, "तेजी से, हम देश में आपूर्ति श्रृंखला को लाने की कोशिश कर रहे हैं। यह हमारे लिए महत्वपूर्ण है और हम उस दिशा में नीति और अन्य पहलुओं के माध्यम से बढ़ रहे हैं।"

उन्होंने कहा कि भारतीय मोबाइल विनिर्माण कंपनियों ने पिछले वर्ष 2014-15 में 6 करोड़ मोबाइल फोनों के निर्माण से 2018-19 में 28 करोड़ मोबाइल फोनों के निर्माण का लंबा सफर तय किया है।

इस आयोजन में माइक्रोसॉफ्ट इंडिया ने 'डिजिटल गर्वनेंस टेक टूर' की घोषणा की, जिसके तहत 5000 सरकारी आईटी अधिकारियों को नए दौर की प्रौद्योगिकी जैसे आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस ( AI ) और क्लाउड कंप्यूटिंग की जानकारी 12 महीनों में दी जाएगी।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned