31 जनवरी 2020 के बाद एंड्रॉयड 10 पर काम करेंगे सभी स्मार्टफोन्स, जानें कारण

  • एंड्रॉएड वर्जन 9 पाई पर काम करने वाले डिवाइस को मंजूरी नहीं देगा गूगल
  • केवल एंड्रॉएड10 पर चलाने वाले नए डिवाइस को ही मंजूरी देगा गूगल

Vishal Upadhayay

October, 1003:26 PM

मोबाइल

नई दिल्ली: अमेरिकी प्रौद्योगिकी कंपनी गूगल ने 31 जनवरी, 2020 के बाद स्मार्टफोन निर्माताओं के लिए अपने मोबाइल में एंड्रॉएड 10 वर्जन अपडेट करना अनिवार्य कर दिया है। इस निर्धारित तिथि के बाद गूगल केवल लेटेस्ट वर्जन एंड्रॉएड-10 चलाने वाले नए उपकरणों को ही मंजूरी देगा। इसके बाद कंपनी पुराने एंड्रॉएड वर्जन 9 पाई के साथ आने वाले उपकरणों को मंजूरी देना बंद कर देगी।

यह भी पढ़ें: Xiaomi Redmi Note 7 Pro की कीमत में हुई भारी कटौती, जानें फीचर्स और नया दाम

कंपनी के इस कदम की जानकारी गूगल के लेटेस्ट जीएमएस गाइडलाइन से पता चली है। एक्सडीए डेवलपर्स की रिपोर्ट के अनुसार, जीएमएस का अर्थ है गूगल मोबाइल सेवा। यह ओईएम (मूल उपकरण निर्माता) के भागीदारों द्वारा गूगल एप और इसकी सेवाओं को लाइसेंस प्रदान कराती है। रिपोर्ट के अनुसार, जीएमएस को प्रीलोड करने के लिए ओईएम को प्रत्येक डिवाइस के लिए सॉफ्टवेयर का निर्माण करना होगा।

यह भी पढ़ें: Google Pixel 4 और Pixel 4 XL से 15 अक्टूबर को उठ सकता है पर्दा, यहां जानें लीक कीमत और फीचर्स

अगर स्मार्टफोन कंपनियां 31 जनवरी के बाद पुराने एंड्रॉयड फोन लॉन्च करती है तो उसके लिए उनको पहले से सॉफ्टवेयर तैयार रखना होगा। लेकिन गूगल सिर्फ लेटेस्ट वर्जन एंड्रॉएड 10 चलाने वाले नए डिवाइस को ही मंजूरी देगा। रिपोर्ट की माने तो कंपनी एंड्रॉयड को लेकर अप्रूवल में कुछ बदलाव कर सकता है। वहीं, 3 सितंबर 2019 के बाद लॉन्च हुए एंड्रॉयड 9 पाई और एंड्रॉयड 10 पर चलने वाले स्मार्टफोन्स में पेरेंट कंट्रोल के साथ डिजिटल वेलबींग दिया जाएगा।

यह भी पढ़ें: Motorola One Micro बजट रेंज स्मार्टफोन भारत में हुआ लॉन्च, ट्रिपल रियर कैमरे से है लैस

Vishal Upadhayay
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned