बिना मास्क नहीं दे सकेंगे वोट, सोशल डिस्टेसिंग भी होगी सुनिश्चित

जिला निर्वाचन अधिकारी ने पंचायत चुनाव को लेकर जारी की गाइडलाइन

By: shyam choudhary

Published: 22 Nov 2020, 08:46 PM IST

नागौर. पंचायतीराज संस्थाओं में जिला परिषद एवं पंचायत समिति सदस्य के निर्वाचन को लेकर नागौर जिले में चार चरणों में होने वाले चुनाव को लेकर कोरोना की रोकथाम व बचाव संबंधी गाइडलाइन जारी की गई है।
जिला निर्वाचन अधिकारी की ओर से जारी इस गाइडलाइन के मुताबिक मतदान केन्द्र पर प्रवेश करने वाले प्रत्येक व्यक्ति के लिए मास्क का उपयोग अनिवार्य होगा। केवल मतदाता की पहचान पर संदेह होने पर ही मास्क हटाया जा सकेगा। मतदान दिवस पर मतदान के लिए आने वाले प्रत्येक मतदाता को बूथ में प्रवेश से पहले सेनेटाइज करने के बाद ही मतदान के लिए कक्ष में प्रवेश दिया जाएगा। सेनेटाइज करने का कार्य मतदान दल में नियुक्त एक अतिरिक्त पुलिसकर्मी, होमगार्ड, सिविल डिफेंस द्वारा सम्पन्न किया जाएगा। सिविल डिफेंस द्वारा ही मतदान के लिए लाइन में लगे मतदाताओं में सोशल डिस्टेसिंग की पालना सुनिश्चित की जाएगी। मतदान केद्र पर मतदाताओं के मतदान करने के लिए यथासंभव तीन पंक्तियां पुरूष, महिला एवं दिव्यांगजनों/वरिष्ठ नागरिकों के लिए पृथक-पृथक होगी।
प्रत्येक पंक्ति में मतदाताओं के लिए छह फीट की दूरी पर खड़े रहने के लिए पूर्व में ही गोले निर्धारित किए जाएंगे, जहां प्रत्येक मतदाता मतदान के लिए अपनी बारी की प्रतीक्षा करेंगे। गोलो की संख्या से अधिक मतदाताओं की मतदान भवन से बाहर रखा जाएगा।

संक्रमण से बचाव के लिए मतदान बूथ पर चुनाव लडऩे वाले अभ्यर्थियों के पोलिंग एजेन्ट तथा मतदान कर्मियों की बैठने की व्यवस्था सोशल डिस्टेसिंग का ध्यान रखते हुए की जाएगी। यदि मतदान कक्ष की संरचना ऐसी है कि जिसमें अभ्यर्थियों के पोलिंग एजेन्ट्स को अंदर बिठाने से सामाजिक दूरी की पालना संभव नहीं है तो अपने कक्ष से बाहर इस तरह बिठाया जाएगा कि कक्ष के अंदर की कार्यवाही उनके द्वारा देखी जा सके और आवश्यकता पडऩे पर पीठासीन अधिकारी से बात की जा सके।

मतदान केन्द्र पर मतदान दल एवं मतदाताओं द्वारा भारत सरकार एवं राज्य सरकार द्वारा कोविड-19 के लक्षण पाए जाने पर ऐसे कार्मिक को तुरन्त प्रभाव से अन्य कार्मिक को अलग कर दिया जाए। नोडल अधिकारी द्वारा ऐसे कार्मिक का कोविड परीक्षण करवाया जाए। परीक्षण के परिणाम की सूचना जिला निर्वाचन अधिकारी को दी जाए। अभ्यर्थियों द्वारा मतदान केन्द्र के बाहर बनाए जाने वाले बूथ पर सेनेटाइजर की व्यवस्था करनी होगी एवं मतदाताओं की सहायता के कार्य में संलग्न व्यक्तियों द्वारा पूरे समय मॉस्क का उपयोग किया जाएगा। ऐसे बेथ पर अनावश्यक भीड़ नहीं हो, इसके लिए एक बार में केवल एक मतदाता ही खड़ा हो सकेगा। कोविड-19 के संबंध में सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन की पालना की जाएगी। इन बूथों पर किसी भी तरह की प्रचार सामग्री नहीं रखी जाएगी। जिला निर्वाचन अधिकारी ने समस्त रिटर्निंग अधिकारियों, एरिया मजिस्ट्रेट, सहायक एरिया मजिस्ट्रेट, जोनल मजिस्ट्रेट व पुलिस अधिकारियों को उक्त गाइडलाइन की पालना सुनिश्चित करवाने के निर्देश दिए हैं।

राज्य निर्वाचन आयोग गाइडलाइन के मुख्य बिन्दू

  • मतदान केन्द्र पर प्रवेश करने वाले प्रत्येक व्यक्ति के लिए मास्क का उपयोग अनिवार्य होगा, केवल मतदाता की पहचान पर संदेह होने पर ही मास्क हटाया जा सकेगा।
  • मतदान दिवस पर मतदान के लिए आने वाले प्रत्येक मतदाता को सेनेटाइज करने के बाद ही मतदान के लिए कक्ष में प्रवेश दिया जाएगा।
  • सेनेटाइज करने का कार्य मतदान दल में नियुक्त एक अतिरिक्त पुलिसकर्मी, होमग्रार्ड, सिविल डिफेंस द्वारा संपन्न किया जाएगा।
  • मतदान केन्द्र पर मतदाताओं के मतदान करने के लिए यथासंभव तीन पंक्तियां पुरूष, महिला एवं दिव्यांगजनों/वरिष्ठ नागरिकों के लिए पृथक-पृथक होंगी।
  • प्रत्येक पंक्ति में मतदाताओं के लिए 6 फीट (दो गज) की दूरी पर खड़े रहने के लिए पूर्व से ही गोले निर्धारित किए जाएंगे, जहां प्रत्येक मतदाता अपनी बारी की प्रतीक्षा करेंगे।
  • संक्रमण से बचाव के लिए मतदान बूथ पर चुनाव लडऩे वाले अभ्यर्थियों के पोलिंग एजेन्ट तथा मतदान कर्मियों के बैठने की व्यवस्था सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए की जाए।

पहचान पत्र दिखाने पर ही मिलेगा मतदान केन्द्र में प्रवेश
जिले की चार पंचायत समितियों में 23 नवम्बर को होने वाले प्रथम चरण के मतदान में मतदाता को अपनी पहचान के लिए भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जारी निर्वाचक फोटो पहचान पत्र प्रस्तुत करना होगा। यदि कोई मतदाता अपना निर्वाचक फोटो पहचान पत्र प्रस्तुत करने में असमर्थ रहता है तो उसे अपनी पहचान सिद्ध करने के लिए 12 अन्य वैकल्पिक फोटोयुक्त दस्तावेजों में से कोई एक दस्तावेज प्रस्तुत करना होगा। यह पहचान पत्र निर्वाचन बूथ के बाहर ड्यूटी पर तैनात कार्मिक या बीएलओ को दिखाने के बाद ही बूथ के अंदर प्रवेश दिया जाएगा।

shyam choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned