सावधान : कहीं आपका ट्रेन टिकट फर्जी ताे नहीं, यात्रा करने से पहले कर लें जांच

  • कथित दलाल कर रहे फर्जी टिकट का खेल
  • बुकिंग कराते समय दर्ज कराए अपना नंबर
  • यात्रा से पहले जरूर करा लें टिकट की जांच

By: shivmani tyagi

Published: 28 Nov 2020, 11:19 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

नाेएडा. ट्रेन में सफर करने की याेजना बना रहे हैं और टिकट बुक करा लिया है ताे ट्रेन में सवार हाेने से पहले अपने ट्रेन टिकट ( train ticket ) की अच्छी तरह से जांच करना नाम भूलें। कोरोना वायरस ( Corona virus ) काे देखते हुए देश में लगाए गए दरअसल लॉक डाउन ( lockdown ) के खुलने के बाद तेजी से ट्रेन टिकटों की मांग बढ़ रही है। इसी मांग काे देखते हुए कथित दलाल सक्रिय हाे गये हैं जाे नकली यानी फर्जी टिकट भी बेच रहे हैं।

यह भी पढ़ें: भाजपा विधायक ने अखिलेश यादव और मायावती को लेकर दिया ये विवादित बयान

यह हिदायत आपकाे यूं ही नहीं दी जा रही है। दरअसल जून से लेकर नवंबर तक दिल्ली रेलवे के पास 100 से अधिक ऐसे मामले ऐसे सामने आए हैं जिनमें कथित दलालों ने फर्जी टिकट यात्रियाें काे थमा दिए गए। रेलवे सूत्रों के अनुसार दलाल विंडो पर बेचे गए टिकटों का डाटा चाेरी करके उनके आधार पर कॉपी टिकट बना लेते हैं। ऐसा हाेने पर अक्सर चलती ट्रेन में एक ही सीट के दाे-दाे दावेदार भी सामने आए हैं।

यह भी पढ़ें: हाईवे पर दौड़ती कार के चालक की गोली मारकर हत्या परिजनों लगाया पुलिस पर आरोप

कुछ मामले ऐसे भी सामने आए हैं जिनमें सीट कन्फर्म हाेने के बाद जब यात्री ट्रेन में सवार हाेता है ताे उसे पता चला कि उसका टिकट कैंसिल हाे चुका है। ऐसे मामलों की झानबीन में पता चला कि एजेंट ने बुकिंग करते समय टिकट साइट पर अपना नंबर फीड कर दिया और यात्री से पैसे लेने के बाद टिकट कैंसिल करते हुए पैसा रिफंड मंगा लिया।

यह भी पढ़ें: Noida स्लम एरिया में बेदम हुआ कोरोना वायरस, एक फीसदी से भी कम मिली संक्रमण की दर

इस तरह ट्रेन के टिकट में तरह-तरह के फ्रॉड सामने आ रहे हैं। ऐसे में जरूरी है कि जब आप ट्रेन में सफर कर रहे हैं ताे अपने टिकट की जांच कर लें। इसके लिए अपने पीएनआर नंबर की रेलवे की ऑनलाइन साइट पर टिकट काे चेक करें और फिर यात्री का नाम और उम्र भी जांच करें। अगर आपकाे ऑनलाइन चेक करना नहीं आता है तो ट्रेन के पहुंचने से पहले ही टीटीई से अपने टिकट की जांच करा लें। फर्जी टिकट के अधिकांश मामलों में नाम और उम्र के साथ-साथ एड्रेस अलग-अलग मिले हैं ऐसे में जांच करते समय नाम और एड्रेस की जांच करना जरूरी है।

Corona virus
Show More
shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned