Pakistan: इमरान सरकार के खिलाफ विपक्ष ला सकता है अविश्वास प्रस्ताव, NAB को खत्म करने की मांग

HIGHLIGHTS

  • पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (PPP) के प्रमुख बिलावल भुट्टो जरदारी ने सभी विपक्षी दलों से इमरान सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने की तैयारी करने के लिए कहा है।
  • 11 विपक्षी दलों के संयुक्त गठबंधन पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट (PDM) इमरान सरकार के खिलाफ लगातार मोर्चा खोले हुए है और 31 जनवरी तक इमरान खान को इस्तीफा देने का अल्टीमेटम भी दिया है।

By: Anil Kumar

Updated: 23 Jan 2021, 05:30 PM IST

इस्लामाबाद। पाकिस्तान ( Pakistan ) में सियासी घमासान चरम पर पहुंचता जा रहा है और इमरान सरकार के खिलाफ मजबूती के साथ विपक्ष का हल्ला बोल जारी है। ऐसे में इमरान सरकार की मुश्किलें बढ़ती दिख रही है। 11 विपक्षी दलों के संयुक्त गठबंधन पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट ( Pakistan Democratic Movement, PDM ) इमरान सरकार के खिलाफ लगातार मोर्चा खोले हुए है और 31 जनवरी तक इमरान खान को इस्तीफा देने का अल्टीमेटम भी दिया है।

इन सबके बीच विपक्ष सदन में इमरान सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव ला सकता है। पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी ( PPP ) के प्रमुख बिलावल भुट्टो जरदारी ने सभी विपक्षी दलों से इमरान सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाने की तैयारी करने के लिए कहा है। भुट्टो ने कहा है कि यह सरकार अक्षम, अयोग्य और अवैध है।

पाकिस्तान के बड़बोले मंत्री शेख रशीद बोले- भारत ने किसान आंदोलन से ध्यान भटकाने के लिए काटी थी हमारी बिजली

लरकाना में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए बिलावल भुट्टो ने इमरान सरकार पर हमला करते हुए विपक्षी दलों से अविश्वास प्रस्ताव लाने की अपील की। उन्होंने कहा कि PDM द्वारा आयोजित रैली से अधिक प्रभावकारी सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लाना होगा।

जांच एजेंसी NAB को खत्म करने उठी मांग

इधर, विपक्षी दलों ने नेशनल अकाउंटेबिलिटी ब्यूरो (NAB) को खत्म करने की मांग उठाई है। पूर्व प्रधानमंत्री और पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज के नेता शाहिद खाकन अब्बासी ने कहा है कि NAB को समाप्त कर देना चाहिए, क्योंकि इसकी उपयोगिता अब समाप्त हो गई है।

इशारों-इशारों में ही अब्बासी ने कहा कि NAB सरकार के इशारे पर काम करने वाली एक एजेंसी है जो कि विपक्षियों के उत्पीड़न का जरिया बन गई है। इसलिए अब इस एजेंसी को समाप्त कर देना चाहिए।

Pakistan: इमरान सरकार के खिलाफ विपक्ष का हल्ला बोल, मंगलवार को चुनाव आयोग के सामने PDM का विरोध-प्रदर्शन

आपको बता दें कि विपक्षी दलों के गठबंधन PDM ने इमरान सरकार के खिलाफ अब तक 10 बड़ी रैली की है और प्रधानमंत्री इमरान खान को 31 जनवरी तक इस्तीफा देने के लिए अल्टीमेटम दिया है। अब PDM ने साफ तौर पर ये ऐलान किया है कि यदि इमरान खान इस्तीफा नहीं देते हैं तो व्यापक आंदोलन का सामना करना पड़ेगा। इस सप्ताह भी PDM दूसरे दौर में प्रभावी रैलियां करने का ऐलान किया है। दूसरे चरण में रैली 5 फरवरी को रावलपिंडी, 9 फरवरी को हैदराबाद और 13 फरवरी को सियालकोट में होगी।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned