महाराष्ट्र में शिवसेना-भाजपा एक साथ आने का बयान देकर फंसे मनोहर जोशी, पार्टी ने झाड़ा पल्ला

  • महाराष्ट्र के पूर्व CM और शिवसेना नेता मनोहर जोशी के बयान से सियासी बखेड़ा खड़ा हो गया
  • शिवसेना नेत्री नीलम गोरे ने कहा मनोहर जोशी का बयान पार्टी का अधिकारिक बयान नहीं

Mohit sharma

December, 1108:38 AM

नई दिल्ली। महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और शिवसेना नेता मनोहर जोशी के बयान से सियासी बखेड़ा खड़ा हो गया है।

वहीं, शिवसेना ने इसे उनका निजी बयान बताया है। शिवसेना नेत्री नीलम गोरे ने कहा कि मनोहर जोशी ने भाजपा को लेकर जो बयान दिया है, वह पार्टी का अधिकारिक बयान नहीं है।

नीलम ने कहा कि यह पूरी तरह से उनका निजी बयान है। उन्होंने कहा कि इस पीढ़ी के नेताओं में इस तरह की भावनाओं का होना स्वाभाविक है।

बिहार: लालू यादव 11वीं बार बने राजद अध्यक्ष, पार्टी ने की औपचारिक घोषणा

 

आपको बता दें कि महाराष्ट्र में सत्ता संघर्ष को लेकर लगभग एक महीने तक चले सियासी ड्रामे बाद शिवसेना ने भाजपा और राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन से नाता तोड़कर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस के साथ सरकार बनाई है।

लेकिन इस बीच शिवसेना नेता मनोहर जोशी के भाजपा के साथ जाने को लेकर आए बयान ने महाराष्ट्र में एक बार फिर सियासी बाजी पलटने के संकेत दिए हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर जोशी ने संकेत दिया है कि निकट भविष्य में भाजपा और शिवसेना फिर से एक साथ आ सकते हैं।

हिंदू जागरण मंच के प्रदेश उपाध्यक्ष पर रेप का आरोप, पीड़िता ने कराया मुकदमा दर्ज

हालांकि उन्होंने इसका फैसला पार्टी प्रमुख उद्धव ठाकरे पर छोड़ दिया। गौरतलब है कि मनोहर जोशी का यह बयान ऐसे समय पर आया है, जब मंगलवार को नागरिकता संशोधन बिल (कैब) पर शिवसेना और कांग्रेस के बीच गतिरोध दिखाई दिया।

हालांकि, इस बीच शिवसेना ने यह कहते हुए गतिरोध को शांत कर दिया कि सब कुछ स्पष्ट होने तक वह कैब का समर्थन नहीं करेगी।

Show More
Mohit sharma
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned