पीएम मोदी की रैली में सौरव गांगुली हो सकते हैं शामिल, बंगाल BJP अध्यक्ष ने दिए संकेत

HIGHLIGHTS

  • ये अटकलें लगाई जा रही हैं कि सौरव गांगुली 7 मार्च को होने वाली प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली में शिरकत कर सकते हैं।
  • अभी तक गांगुली की ओर से इसपर कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है और उनके परिवार व दोस्त भी इस मामले पर चुप हैं।

By: Anil Kumar

Updated: 03 Mar 2021, 09:04 PM IST

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में चुनाव से पहले ही सियासी संग्राम चरम पर पहुंच गया है। तृणमूल कांग्रेस में जहां खलबली मची है और एक के बाद एक नेता व सांसद-विधायक पार्टी छोड़ रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ भाजपा अपने जनाधार को बढ़ाने और सत्ता में काबिज होने के लिए हर मुमकिन कवायद में जुटी है।

अब इसी सियासी रस्साकस्सी के बीच पूर्व क्रिकेटर सौरव गांगुली चर्चा के केंद्र में आ गए हैं। पिछले काफी समय से ये कयास लगाए जा रहे हैं गांगुली भाजपा का दामन थाम सकते हैं। हालांकि, गांगुली की ओर से इसको लेकर कभी भी कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई।

चुनाव से पहले ममता का साथ छोड़ चार और TMC नेता भाजपा में शामिल

अब एक बार फिर से ये अटकलें लगाई जा रही हैं कि सौरव गांगुली भाजपा में शामिल हो सकते हैं। वे 7 मार्च को होने वाली प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली में शिरकत कर सकते हैं। इसको लेकर बंगाल बीजेपी के अध्यक्ष दिलीप घोष ने संकेत दिए हैं। हालांकि, अभी तक गांगुली की ओर से इसपर कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है और उनके परिवार व दोस्त भी इस मामले पर चुप हैं।

दिलीप घोष ने कहा- मेरे पास जानकारी नहीं

सौरभ गांगुली के भाजपा में शामिल होने के सवाल पर बंगाल बीजेपी अध्यक्ष दिलीप घोष ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि हमारे पास इसकी कोई जानकारी नहीं है, हो सकता है कि आपके पास हो। इसी महीने के आखिर में शुरू हो रहे विधानसभा चुनाव के दौरान गांगुली के भाजपा में शामिल होने की अटकलें तेज हो गई है।

West Bengal Election 2021 : ममता कभी भी कर सकती हैं तृणमूल उम्मदवारों की सूची जारी

माना जा रहा है कि गांगुली अपने राजनीतिक पारी की शुरूआत भाजपा के साथ जुड़कर इस विधानसभा चुनाव से कर सकते हैं। इससे पहले बीजेपी प्रवक्ता शामिक भट्टाचार्य ने कोलकाता में कहा कि भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान यदि पीएम मोदी के कार्यक्रम में हिस्सा लेना चाहते हैं और उनका स्वास्थ्य व मौसम संबंधी परिस्थितियां इसकी इजाजत देते हैं तो उनका स्वागत है।

उन्होंने आगे कहा कि यदि वे आते हैं तो हमें लगता है कि उन्हें यह पसंद आयेगा और वहां मौजूद लोगों को भी अच्छा लगेगा। हालांकि, उन्होंने ये भी कहा कि इस बारे में (कार्यक्रम में शामिल होने के बारे में) हम नहीं जानते.. यह फैसला उन्हें करना है। बता दें कि कुछ लोगों का मानना है कि गांगुली भाजपा में शामिल होकर मुख्यमंत्री पद के दावेदारी कर सकते हैं, पर बीजेपी के अंदर इसको लेकर विरोध हो सकता है। ऐसे में भाजपा के लिए बहुत मुश्किल हो सकता है।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned