चुनाव से पहले ममता का साथ छोड़ चार और TMC नेता भाजपा में शामिल

Highlights

  • सभी नेताओं ने बुधवार को कोलकाता में भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ली है।
  • दो बार के टीएमसी विधायक जीतेंद्र तिवारी ने भी टीएमसी का साथ छोड़ दिया।

नई दिल्ली। पश्चिम बंगाल (West Bengal) में तृणमूल कांग्रेस (Trinamool Congress) के सामने संकट के बादल गहराते नजर आ रहे हैं। विधाननगर मेयर इन काउंसिल देवाशीष जाना (Debasish Jana) के संग आसनसोल (Asansol) के तीन पार्षदों ने पार्टी को अलविदा कह डाला है।

RSS देशभक्ति की पाठशाला है, राहुल गांधी को समझने में बहुत देर लगेगीः Prakash Javadekar

इन सभी नेताओं ने बुधवार को कोलकाता में भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ली है। बीते मंगलवार को दो बार के टीएमसी विधायक जीतेंद्र तिवारी ने भी टीएमसी का साथ छोड़ दिया। बंगाल भाजपा प्रमुख दिलीप घोष की मौजूदगी में तिवारी पार्टी में शामिल हो गए थे।

तृणमूल कांग्रेस के लिए बुधवार का दिन भी अच्छा नहीं रहा। आसनसोल से पार्टी के तीन पार्षद और विधाननगर मेयर इन काउंसिल देवाशीष भाजपा में जुड़ गए हैं। पार्टी में लगातार हो रहे दल-बदल को लेकर राज्य की सीएम ममता बनर्जी के सामने लगातार मुश्किलें सामने आ रही हैं। पार्टी के दिग्गज और पूर्व मंत्री रहे शुभेंदु अधिकारी के इस्तीफे के बाद लगातार टीएमसी नेता बागवत कर रहे हैं।

भाजपा ने सदस्यता देने पर लगाई थी रोक

राज्य में टीएमसी के नेता बड़ी संख्या में भाजपा का रुख कर रहे थे। ऐसे में कुछ ही दिनों पहले भाजपा ने घोषणा की थी कि पार्टी अब बड़े स्तर पर टीएमसी नेताओं को शामिल नहीं करेगी। भाजपा का कहना है कि वे राज्य में सत्तारूढ़ पार्टी की बी—टीम नहीं बनना चाहते हैं। बाद में उसने गिन—चुने टीएमसी नेताओं को ही पार्टी में शामिल करने की बात कही।

BJP
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned