स्कूल जाने साथ निकली थी चार सहेलियां मगर वापस नहीं लौटी, जब पुलिस ने दबोचा तो लड़कों के साथ मिली इस हाल में...

ल जाने के बहाने घर से निकली चार सहेलियां एक साथ घर से भाग गई। जब घर के एक के बाद सिटी कोतवाली पहुंचकर और गुमशुदगी (Missing) की रिपोर्ट दर्ज कराई तो पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया।

रायपुर. छत्तीसगढ़ में सामने आया है जिसमे स्कूल जाने के बहाने घर से निकली चार सहेलियां एक साथ घर से भाग गई। जब घर के एक के बाद सिटी कोतवाली पहुंचकर और गुमशुदगी (Missing) की रिपोर्ट दर्ज कराई तो पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस ने पतासाजी की तो बाद कमरे में कुछ लड़कों के साथ मिली (Crime news) ।

ये है पूरा मामला
मिली जानकारी के अनुसार बुधवार सुबह चारों सहेलियां स्कूल जाने निकली थी। इस दिन स्कूल में साइकिल वितरण किया जाना था। चारों के स्कूल नहीं आने पर शिक्षकों ने शाम 4 बजे परिजन को फोन किया और उनके नहीं आने का कारण पूछा। यह सुनकर परिजन अवाक रह गए। इसके बाद परिजन अपने स्तर पर उनकी तलाश में जुट गए। रिश्तेदारों के यहां जानकारी ली। कोई जानकारी नहीं मिली, तब थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई।

थाना प्रभारी राजेश मिश्रा ने बताया कि मामले की गंभीरता को देखते हुए सभी थानों को अलर्ट किया गया। टीम गठित कर जांच शुरू की गई। पतासाजी के दौरान पता चला कि स्कूल ड्रेस पहने चार लड़कियां सिमगा में अपनी पायल और नाक की नथुनी बेचकर रायपुर की ओर गई हैं। इस पर टीम रायपुर रवाना की गई। जहां पर पुलिस ने रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड, सराय, रैन बसेरा आदि में पूरी रात छानबीन की, लेकिन कोई सफलता नहीं मिली।

जिस मोहल्ले से लड़कियां गायब हुई थी, उस मोहल्ले के कुछ लड़कों का अपराधिक रिकॉर्ड था। पुलिस ने उन्हें मामले में संदिग्ध मानते हुए उनके बारे में जानकारी ली। ये लड़के घर पर नहीं मिले। इसके बाद पुलिस ने इन कडिय़ों को जोड़ते हुए उनकी संलिप्तता मानी और पतासाजी की। पता चला कि ये लोग रायपुर के एक घर में छिपे हैं।

जहां पुलिस टीम ने दबिश दी और तीन आरोपियों के साथ गुमशुदा चारों लड़कियों को बरामद कर लिया। इसके बाद परिजन को जानकारी दी। उन्होंने राहत महसूस किया। लड़कियों की मनोदशा को ध्यान में रखते हुए महिला सेल प्रभारी नीता राजपूत, प्रधान आरक्षक पूनम ठाकुर ने उनसे पूछताछ कर बयान दर्ज किया। पुलिस के अनुसार चारों लड़कियां आपस में सहेली हैं। एक ही स्कूल और एक ही कक्षा में पढ़ती हैं।

आरोपियों ने चारों लड़कियों को फिल्मी स्टाइल में सब्जबाग दिखाए। उनके नाबालिग होने का फायदा उठाया। बहला-फुसला कर घर से भाग जाने पर मजबूर किया। पुलिस ने मामले की गंभीरता और युवकों के अपराधिक रिकॉर्ड को देखते हुए उनके खिलाफ ठोस कानूनी कार्रवाई करने का निर्णय लिया है।

Chhattisgarh से जुड़ी Hindi News के अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर Like करें, Follow करें Twitter और Instagram पर या LIVE अपडेट के लिए Download करें patrika Hindi News

Show More
Bhawna Chaudhary
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned