करोड़ों की टैक्स चोरी के मामले में लखनऊ से पहुंची एसआईटी टीम ने खंगाले फैक्ट्री के दस्तावेज

  • शराब फैक्ट्री में शराब की तस्करी करके की गई करोड़ों की टैक्स चोरी
  • आईपीएस देव रंजन वर्मा के नेतृत्व में गठित की गई एसआईटी ने की फैक्ट्री के दस्तावेजों की जांच

By: shivmani tyagi

Published: 08 Mar 2021, 07:11 PM IST

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क

सहारनपुर . टपरी स्थित शराब फैक्ट्री में हुई करोड़ों की टैक्स चोरी के मामले में अब नए चेहरे भी सामने आ सकते हैं। अभी तक पुलिस इस मामले में 18 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर चुकी है। अब लखनऊ में आईपीएस देव रंजन वर्मा के नेतृत्व में इस पूरे मामले की जांच करने के लिए एसआईटी गठित की गई है।

यह भी पढ़ें: अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर सौगात, प्रदेश के सभी मंडल में बनेंगे महिला थाने

लखनऊ से सहारनपुर पहुंची एसआईटी ने फैक्ट्री के सभी दस्तावेजों को खंगाला और टीम अपने साथ कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेज भी ले गई। लखनऊ से आई एसआईटी टीम की कार्रवाई के बाद फैक्ट्री में हड़कंप मचा रहा। अब आशंका जताई जा रही है कि कुछ नए नाम भी खुलकर सामने आ सकते हैं आपको बता दें कि बुधवार को सहारनपुर के टपरी स्थिति दि-ऑपरेटिव कंपनी पर एसटीएफ लखनऊ टीम ने छापा मारा था। छापेमारी के दौरान यह बात सामने आई थी कि फर्जी बारकोड के आधार पर कंपनी से भारी मात्रा में टैक्स चोरी करके शराब बाहर ले जाई गई और इस तरह अवैध रूप से शराब की तस्करी करके करोड़ों रुपए का घोटाला कर लिया गया।

यह भी पढ़ें: योगीराज में जान जोखिम में डालकर नदी पार करने को मजबूर शिव भक्त कांवड़िये

इस खुलासे के बाद सहायक आबकारी आयुक्त परिवर्तन मेरठ आरिफ जमीन की तहरीर पर सहारनपुर के कोतवाली देहात थाने में पुलिस ने एफ आई आर दर्ज की थी। इस एफआईआर में फैक्ट्री मालिक समेत फैक्ट्री के अन्य अधिकारियों को नामजद किया गया था। मामला महत्वपूर्ण होने की वजह से पहले जिला स्तर पर एक एसआईटी गठित की गई थी लेकिन अब इस पूरे मामले की जांच लखनऊ एसटीएफ को ट्रांसफर कर दी गई है। आईपीएस देव रंजन वर्मा की अध्यक्षता में अब इस पूरे मामले की जांच करने के लिए अलग से एक टीम गठित की गई है।

यह भी पढ़ें: International Women's Day: 'महिलाओं की कुर्बानियों से ही आज हम आजाद भारत में सांस ले रहे हैं'

यह टीम रविवार को सहारनपुर पहुंची और टपरी स्थित फैक्ट्री में पहुंचकर एसआईटी ने यहां सभी दस्तावेजों को खंगाला। टीम ने एमडी ऑफिस की भी तलाशी ली और इस दौरान कुछ जरूरी दस्तावेज भी एसआईटी की टीम अपने साथ ले गई। इस दौरान पूछने पर एसआईटी टीम के प्रभारी आईपीएस देव रंजन शर्मा ने बताया कि कुछ नए तथ्य सामने आए हैं। उनके आधार पर जांच को आगे बढ़ाया जा रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि जो भी नए नाम सामने आएंगे, जो भी आरोपी सामने आएंगे सभी के खिलाफ कार्रवाई होगी और उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned