रायन इंटरनेशनल स्कूल की प्रिंसिपल पर हो सकती है राजद्रोह की कार्रवाई

Amit Sharma

Publish: Oct, 13 2017 08:48:26 (IST) | Updated: Oct, 13 2017 09:12:59 (IST)

Shahjahanpur, Uttar Pradesh, India
रायन इंटरनेशनल स्कूल की प्रिंसिपल पर हो सकती है राजद्रोह की कार्रवाई

शाहजहांपुर के रायन इंटरनेशनल स्कूल पर अब अपना ही तुगलकी फरमान भारी पड़ने लगा है।

शाहजहांपुर। गुड़गांव के रायन इंटरनेशनल स्कूल की घटना को अभी लोग भूले नहीं हैं कि शाहजहांपुर में जांच के बाद रायन इंटरनेशनल स्कूल के एक बड़े कारनामे का खुलाशा हुआ है। जिसमें रायन इंटरनेशनल स्कूल के प्रबंधन ने 15 अगस्त को स्वतन्त्रता दिवस ही नहीं मनाया। मुख्यमंत्री कार्यालय से आयी जांच के बाद अब जिला प्रशासन ने रायन इंटरनेशनल स्कूल की प्रिंसिपल और मैनेजमेंट के खिलाफ एफआईआर और स्कूल की मान्यता रद्द करने की संस्तुति सीबीएसई बोर्ड से की है। जानकारों की मानें तो रायन इंटरनेशनल स्कूल के जिम्मेदार लोगों ने जान बूझकर राष्ट्रीय पर्व स्वतंत्रता दिवस नहीं मनाया। जिस पर राजद्रोह जैसी कड़ी कार्रवाई भी हो हो सकती है।


सीएम योगी आदित्यनाथ से की गई शिकायत

शाहजहांपुर के रायन इंटरनेशनल स्कूल पर अब अपना ही तुगलकी फरमान भारी पड़ने लगा है। दरअसल शाहजहांपुर में रायन इंटरनेशनल स्कूल ने 15 अगस्त 2017 को राष्ट्रीय पर्व स्वतंत्रता दिवस नहीं मनाया। जिसकी शिकायत अभिभावकों ने पहले तो जिला प्रशासन से की और कार्रवाई न होते देख कुछ लोगों ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से भी की। मुख्यमंत्री कार्यालय से आदेश के बाद जिलाधिकारी ने इस जांच का जिम्मा जिला विद्यालय निरीक्षक को दिया।


14 अगस्त को ही छुट्टी घोषित कर दी गई

जिसमें जिला विद्यालय निरीक्षक ने फौरन ही एक टीम बनाकर रायन इंटरनेशनल स्कूल भेजी तो जांच में रायन इंटरनेशनल स्कूल का काला झूठ का काला चिट्ठा सामने आ गया। जांच टीम ने स्कूल की बसों के ड्राइवर, छात्र, अभिभावक, स्कूल की सुरक्षा में तैनात सुरक्षकर्मियों, शिक्षकों से बातचीत में पाया कि 14 अगस्त 2017 ही रायन इंटरनेशनल स्कूल के प्रिंसिपल और प्रबंधन ने मिलाकर छात्रों की स्कूल डायरी या फिर अभिभावकों के मोबाइल फोन के व्हाट्सप पर 15 अगस्त को छुट्टी की घोषणा कर दी।


अभिभावकों ने की शिकायत

नाराज अभिभावकों ने पहले तो रायन इंटरनेशनल स्कूल में राष्ट्रीय पर्व स्वतंत्रता दिवस न मनाये जाने की शिकायत जिला प्रशासन से की और जब जिला प्रशासन ने इस ओर ख़ास ध्यान नहीं दिया तो कुछ लोगों ने इसकी शिकायत मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से की। जिस पर मुख्यमंत्री कार्यालय से आये फरमान के बाद जिला प्रशासन ने लोगों के आरोपों की जांच करवाई। जिसमें रायन इंटरनेशनल स्कूल के बड़े झूठ का खुलासा हुआ।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned