VIDEO: Big News: परेशान सैकड़ों परिवारों ने दी पलायन की चेतावनी, घर के बाहर लिखा-यह मकान बिकाऊ है

VIDEO: Big News: परेशान सैकड़ों परिवारों ने दी पलायन की चेतावनी, घर के बाहर लिखा-यह मकान बिकाऊ है

Ashutosh Pathak | Updated: 17 Jul 2019, 04:06:25 PM (IST) Shamli, Shamli, Uttar Pradesh, India

  • नाराज सैकड़ों लोगों ने घर के बाहर लिखा- यह मकान बिकाऊ है
  • पुलिस प्रशासन के खिलाफ भी जमकर लोगों ने की नारेबाजी
  • मामले में कोतवाली पुलिस ने मौके पर पहुंचकर शुरू की जांच

शामली। शामली ( Shamli ) में सैकड़ों परिवार ने अपने घर के बाहर लिखकर पलायन ( palayan ) की चेतावनी दे दी है। इना ही नहीं नाराज लोगों ने हाथों में तख्तियां लेकर प्रदर्शन भी किया। दरअसल शामली के झिंझाना रोड पर पूर्वी यमुना नहर के पास कृष्णा कुंज कॉलोनी है, जिसमें करीब 200 परिवार रहते हैं। पास में ही बाबा शेरनाथ ने जमीन ली हुई है। उन्होंने ही अपनी जमीन पर नाला निर्माण कर कब्जे की शिकायत पुलिस-प्रशासन से की थी।

कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और बाबा शेरनाथ के मजदूरों ने नाले को पाटना शुरू कर दिया। इस पर स्थानीय लोग आक्रोशित हो गए और हंगामा करने लगे। स्थानीय निवासी अजय कुमार, राममेहर सिंह का कहना था कि उपजिलाधिकारी ने पैमाइश के आदेश किए थे, लेकिन पुलिस ने बिना पैमाइश किए ही जबरन नाला बंद कर दिया दिया। इससे घरों से निकलने वाले पानी की निकासी रुक गई। लगातार बारिश हो रही है और ऐसे में जलभराव होगा। वे पुलिस-प्रशासन के रवैये से आहत हैं और कॉलोनी के सभी लोगों ने यहां मकान बेचकर पलायन करने का निर्णय लिया है। कहीं कोई सुनवाई नहीं हो रही। वैसे भी पानी की निकासी को बिना कोई इंतजाम किए नहीं रोका जा सकता।

ये भी पढ़ें : डॉन मुन्ना बजरंगी के बाद उसके साथी को भी वेस्ट यूपी में मार गिराया, जानिए किसने

 

shamli

वहीं हंगामे की सूचना पर मंगलवार शाम करीब सात बजे पैमाइश के लिए राजस्व विभाग की टीम पहुंची। उधर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक सुभाष राठौर ने बताया कि जिस व्यक्ति की जमीन पर नाला बनाया गया था, उनके द्वारा ही नाले को पाटने का काम किया। यह भूमि मंदिर की है। पुलिस सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर गई थी। पैमाइश प्रशासन को करनी है।

ये भी पढ़ें : पुलिस के बुलाने पर भी नहीं पहुंचे इमाम, मारपीट और दाढ़ी नोचने का दर्ज कराया था मुकदमा

नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी सुरेंद्र यादव का कहना है कि उन्हें ऐसे किसी मामले की जिम्मेदारी नहीं है। पता किया जाएगा कि नाला नगर पालिका का है या नहीं।
वही एसडीएम सुरजीत सिंह ने बताया कि विवाद की जानकारी मिली है। कानूनगो और लेखपाल को मौके पर भेजा है। जो भी सही होगा, उसके अनुरूप कार्रवाई होगी।

ये भी पढ़ें : पुलिस के पास पहुंचीं दो लड़कियां, बोलीं- हम पति-पत्नी, सुरक्षा दीजिये

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned