script छुट्टी पर घर आए सीआरपीएफ के जवान संदिग्ध मौत : | Wave of interest among acquaintances including family, last rites will | Patrika News

छुट्टी पर घर आए सीआरपीएफ के जवान संदिग्ध मौत :

locationशिवपुरीPublished: Feb 07, 2024 01:45:31 pm

छुट्टी पर घर आए सीआरपीएफ के जवान संदिग्ध मौत :
परिजन सहित परिचितों में शौक की लहर, पैतृक गांव में गार्ड ऑफ़ ऑनर के साथ किया जाएगा अंतिम संस्कार

छुट्टी पर घर आए सीआरपीएफ के जवान संदिग्ध मौत :
छुट्टी पर घर आए सीआरपीएफ के जवान संदिग्ध मौत :
छुट्टी पर घर आए सीआरपीएफ के जवान संदिग्ध मौत :
परिजन सहित परिचितों में शौक की लहर, पैतृक गांव में गार्ड ऑफ़ ऑनर के साथ किया जाएगा अंतिम संस्कार
शिवपुरी छुट्टी पर अपने घर बापस आये सीआरपीएफ के जवान की संदिग्ध मौत हो गई। तबियत बिगड़ने के बाद आज सुबह परिजन जवान को जिला अस्पताल लेकर पहुंचे थे लेकिन डॉक्टर से जवान को मृत घोसित कर दिया। अस्पताल चौकी पुलिस ने मर्ग कायम कर जवान के पोस्टमार्टम की प्रक्रिया शुरू कर दी है। इसके बाद जवान का पैतृक गांव बामौर में अंतिम संस्कार गार्ड ऑफ़ ऑनर के साथ ससम्मान किया जाएगा। बता दें कि नौजवान के एकाएक निधन ने परिजनों का बुरा हाल है वहीँ परिचितों में शौक की लहर है।
चुनावी ड्यूटी पर जाने से पहले छुट्टी लेकर घर आया था जवान -
जानकारी के मुताबिक़ देहात थाना क्षेत्र के बामौर गांव का रहने वाला ३६ वर्षीय जनाव विनोद पाल पुत्र मंगल पाल चार दिन पहले छत्तीसगढ़ में सीआरपीएफ की २११ बटालियन से छुट्टी लेकर अपने घर आया हुआ था। परिजनों ने बताया कि विनोद की डयूटी लोकसभा चुनाव में लगनी थी। इससे पहले वह २७ दिन की छुट्टी लेकर घर आया हुआ था। बताया गया है कि रविवार की सुबह ६ बजे जवान विनोद ने अपनी पत्नी रामसखी से चाय मांगी थी। जब रामसखी अपने पति को चाय देने पहुंची तभी विनोद बिस्तर से उठकर खड़े होने के साथ ही गिर गया। आनन-फानन में विनोद को जिला अस्पताल लाया गया था। जहां जवान विनोद ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया।
गार्ड ऑफ़ ऑनर के साथ होगा अंतिम संस्कार -
बता दें विनोद पाल कुल चार भाई है। विनोद की शादी २००५ में हुई थी। उसके दो बेटे और एक बेटी है। शादी के बाद साल २०११ में विनोद सीआरपीएफ में भर्ती हुए थे। तभी से वह देश की सेवा में कार्यरत थे। विनोद वर्तमान में छत्तीसगढ़ में सीआरपीएफ की २११ बटालियन में तैनात थे। चार दिन पहले विनोद अपने घर बापस लौटे थे। जहां उनका दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। शिवपुरी के सीआरपीएफ कमाण्डेंट प्रवीण थपलेयाल ने बताया कि जवान का अंतिम संस्कार गारद ऑफ़ ऑनर के साथ ससम्मान उनके गृहग्राम बामौर में कराया जाएगा। इसकी तैयारी पूरी कर ली गई है।

ट्रेंडिंग वीडियो