scriptSirohi Municipal Council | शौचालय बनाने के बाद भूल गई नगर परिषद सिरोही, अब धूल फांक रहे शौचालय, जिम्मेदारों की अनदेखी | Patrika News

शौचालय बनाने के बाद भूल गई नगर परिषद सिरोही, अब धूल फांक रहे शौचालय, जिम्मेदारों की अनदेखी

locationसिरोहीPublished: Oct 04, 2023 06:09:48 pm

स्वच्छ भारत मिशन का उड़ रहा मखौल, खुले में लघुशंका जाने को मजबूर लोग...

शौचालय बनाने के बाद भूल गई नगर परिषद सिरोही, अब धूल फांक रहे शौचालय, जिम्मेदारों की अनदेखी
sirohi patrika
सिरोही. सिरोही जिला मुख्यालय पर स्वच्छ भारत मिशन का मखौल उड़ रहा है। शहर में कई स्थानों पर लाखों रुपए की लागत से बने शौचालय देखरेख व सफाई के अभाव में धूल फांक रहे है। खस्ताहाल पड़े शौचालय आमजन के कोई काम नहीं आ रहे। सबसे अहम बात यह कि पुरूष तो इधर-उधर खुले में भी चले जाते हैं, लेकिन शौचालयों के अभाव में आधी आबादी को भारी परेशानी का सामना करना पड़ता है। वहीं, लोगों के खुले में लघुशंका जाने से आसपास क्षेत्र में गंदगी भी फैल रही है।
उल्लेखनीय है कि स्वच्छ भारत मिशन के तहत 2014-15 में सिरोही जिला मुख्यालय पर प्रमुख जगहों पर लाखों रुपए की लागत से नगर परिषद की ओर से शौचालय बनाए गए थे, लेकिन जिम्मेदारों की अनदेखी से वर्तमान में कई जगह शौचालय गंदगी से अटे पड़े हैं। कई जगह देखरेख नहीं होने से इन शौचालयों के दरवाजे, पानी की टंकी समेत अन्य सामान टूटा पड़ा है। वहीं कई जगह तो इन शौचालय के ऊपर रखी पानी की टंकियां तक गायब है। ऐसे में स्वच्छता अभियान की पोल खुल रही है। जबकि नगर परिषद के जिम्मेदारों ने आंख मूंद रखी है। सार्वजनिक स्थानों पर शौचालय के अभाव में सबसे अधिक समस्या तो महिलाओं को होती है। इसके बावजूद नगर परिषद ध्यान नहीं दे रही।
सिरोही : कालकाजी तालाब
सिरोही के कालकाजी तालाब जाने वाले मार्ग पर छह शौचालय बने हुए है, लेकिन जिम्मेदारों की अनेदखी से यह शौचालय धूल फांक रहे है। इन शौचालय के सभी दरवाजे टूटे पड़े है। शौचालयों के ऊपर रखी पानी की तीन टंकियां भी गायब है। आसपास झाडिय़ां उगी हुई है, लेकिन अभी तक जिम्मेदारों की ओर कोई सुध नहीं ली गई है। यह शौचालय किसी के भी काम नहीं आ रहे है। लोग खुले में लघु शंका जाने को मजबूर है।

सिरोही : निडोरा तालाब
सिरोही शहर के निडोरा तालाब के पास भी छह शौचालय बनाए गए थे। इन शौचालयों के न तो दरवाजे है और न हीं पानी की टंकियां। यहां से सभी सामान गायब है। ऐसे में लोग खुले में लघुशंका जाने को मजबूर है।
सिरोही : गोयली चौराहा
सिरोही के गोयली चौराहा पर पांच शौचालय बने हुए है, लेकिन इन सभी के दरवाजे टूटे पड़े हैं। वहीं अंदर नल समेत अन्य सामान भी टूटा पड़ा है। जिम्मेदारों की ओर से तक तक इन शौचालयों की सुध तक नहीं ली है। यह शौचालय किसी के भी काम नहीं आ रहे है। जबकि गोयली चौराहा पर बस स्टैण्ड होने से हर वक्त सैंकड़ों यात्रियों व लोगों की भीड़ रहती है। ऐसे में यहां लोग खुले में लघु शंका जाने को मजबूर है।
सिरोही : अरविन्द पैवेलियन
सिरोही के अरविन्द पैवेलियन के सामने वाले भाग की दीवार से सट कर पांच शौचालय बने हुए है, लेकिन देखरेख के अभाव में उनके दरवाजे, नल, पानी की टंकियां समेत सभी सामान टूटा पड़ा है। नगर परिषद की अनदेखी से आमजन को काफी परेशानी होती है। यदि जिम्मेदारों की ओर से इन शौचालय को ठीक कर दिया जाए तो आमजन इनका उपयोग कर सकते हैं।

आयुक्त बोले : शीघ्र ही किए जाएंगे ठीक
यह शौचालय स्वच्छ भारत मिशन के तहत 2014-15 में बनाए गए थे। इन शौचालयों को शीघ्र ही ठीक किया जाएगा। दो-तीन दिन में काम शुरू कर दिया जाएगा।
- योगेश आचार्य, आयुक्त, नगर परिषद सिरोही

ट्रेंडिंग वीडियो