99 साल बुजुर्ग की मौत के बाद सामने आई हैरान कर देने वाली सच्चाई, मेडिकल साइंस इसे बता रहा चमत्कार

99 साल बुजुर्ग की मौत के बाद सामने आई हैरान कर देने वाली सच्चाई, मेडिकल साइंस इसे बता रहा चमत्कार

Priya Singh | Publish: Apr, 12 2019 03:26:04 PM (IST) अजब गजब

  • 99 वर्ष की महिला के शरीर के अंदरुनी अंग थे उल्टे
  • रोज मेरी नाम की इस महिला के अधिकांश अंग थे गलत जगह पर
  • 5 करोड़ लोगों में से किसी एक को होती है ये दिक्कत

नई दिल्ली। अमरीका ( America ) की रहने वाली पांच बच्चों की मां की 99 साल की उम्र में मौत हो गई थी। यह खबर तब तक आम थी जबतक इस महिला का शव पोर्टलैंड ( Portland ) के ओरेगोन हेल्थ एंड साइंस यूनिवर्सिटी को डोनेट नहीं किया गया। महिला का शव वहां मेडिकल पढ़ रहे छात्रों के एक समूह को दिया गया ताकि वह मानव शरीर की संरचना को समझ सकें। मानव शरीर की जांच करते समय छात्रों को जो मिला वह बेहद हैरान कर देने वाला था। रोज मैरी नाम की इस महिला के शव की जांच करने पर पता चला कि रोज के अंदरुनी अंग अपनी जगहों पर नहीं हैं।

करीब 800 साल पुराने इस मंदिर में स्त्री मूर्तियों को देखकर लगा आज के जमाने की इस सच्चाई का पता

छात्र हैरान थे कि इस तरह की शारीरिक बनावट के साथ रोज 99 साल तक ज़िंदा कैसे रहीं। रोज के अधिकांश अंग गलत जगह पर थे। कुछ के आकार सामान्य से बहुत बड़े थे। वह लेवोकार्डिया के साथ साइटस इनवर्सस नामक स्थिति में जी रही थीं, जिसमें अधिकांश महत्वपूर्ण अंग उलटे हो जाते हैं। शरीर के अंगों को देखकर ऐसा लगता है मानों शरीर के अंदर शीशा लगा हो। रोज के शरीर की पेचीदगी 5 करोड़ लोगों में से किसी एक को होती है।

महिला ने हफ्तों तक घर में छुपाकर रखा बॉयफ्रेंड का शव, जब पता चली वजह तो सब रह गए दंग

रोज के परिवार का कहना है कि रोज को इस वजह से कभी कोई दिक्कत नहीं हुई। रोज के दिल की एक बड़ी नस अपनी जगह पर नहीं थी। वह दाईं ओर की बजाए बाईं और मिली। दिल का दाहिना एट्रीअम सामान्य आकार से दोगुना था। इसी तरह रोज के दाहिने फेफड़े में तीन के बजाय दो हिस्से थे। रोज का पेट भी बाईं ओर होने के बजाय, दाईं ओर था। उनका पाचनतंत्र भी उल्टा था। मेडिकल साइंस में इसे चमत्कार कहा जा सकता है। शरीर के इतने जटिल होने के बावजूद रोज मेरी को कोई बीमारी नहीं थी। उन्हें केवल गठिया की शिकायत थी।

सांप का जहर शरीर में ऐसे करता है असर, VIDEO देख जम जाएगा खून

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned