scriptपाकिस्तान में पत्रकार की सरेआम गोली मारकर हत्या, जानिए कौन हैं जिब्रान? | Journalist Khalil Gibran shot dead in Pakistan | Patrika News
विदेश

पाकिस्तान में पत्रकार की सरेआम गोली मारकर हत्या, जानिए कौन हैं जिब्रान?

Journalist shot dead in Pakistan: जिब्रान पर हमला कर हमलावर भाग गए वहीं शव को पोस्टमार्टम के लिए लांडी कोटल अस्पताल ले जाया गया। रिपोर्ट में बताया कि यह घटना लांडी कोटल पुलिस थाने के आसपास के मजरीना इलाके में हुई। जिब्रान को आतंकवादियों से धमकियां मिली थीं।

नई दिल्लीJun 19, 2024 / 11:05 am

Jyoti Sharma

Journalist Khalil Gibran shot dead in Pakistan

खलील जिब्रान

Journalist shot dead in Pakistan: पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के वरिष्ठ पत्रकार खलील जिब्रान (Khalil Gibran) की लांडी कोटल कस्बे में उनके आवास के पास अज्ञात बंदूकधारियों ने हत्या कर दी। पुलिस ने बुधवार को यह जानकारी दी। निजी समाचार चैनल खैबर न्यूज के पत्रकार जिब्रान पर मोटरसाइकिल सवार अज्ञात लोगों ने उस समय हमला किया, जब वह अपने दोस्त सज्जाद एडवोकेट के साथ अपने आवास की ओर जा रहे थे। बताया जा रहा है कि जिब्रान की कार उनके घर के पास खराब हो गयी थी। इस दौरान अज्ञात बदूंकधारियों ने उन्हें गाड़ी से बाहर खींच लिया और गोली मार दी।
https://twitter.com/AdnanBitani/status/1803151775479787798

आतंकियों से मिली थीं धमकियां

पाकिस्तान मीडिया की रिपोर्ट के मुताबिक ‘लांडी कोटल प्रेस क्लब के पूर्व अध्यक्ष जिब्रान (Khalil Gibran) की गोलीबारी में मौत हो गई, जबकि सज्जाद घायल हो गए। हमलावर भाग गए और जिब्रान के शव को पोस्टमार्टम के लिए लांडी कोटल अस्पताल ले जाया गया। रिपोर्ट में बताया कि यह घटना (Journalist shot dead in Pakistan) लांडी कोटल पुलिस थाने के आसपास के मजरीना इलाके में हुई। जिब्रान को आतंकवादियों से धमकियां मिली थीं। खैबर पख्तूनख्वा के मुख्यमंत्री अली अमीन गंदापुर ने संबंधित अधिकारियों को पत्रकार की हत्या के दोषियों को तुरंत गिरफ्तार करने का आदेश दिया है।

लगातार टारगेट हो रहे पत्रकार

वहीं, गवर्नर फैसल करीम कुंडी ने भी जिब्रान की हत्या की निंदा की। इलेक्ट्रॉनिक मीडिया संपादकों और समाचार निदेशकों के संघ ने खैबर समाचार के रिपोर्टर की हत्या की कड़ी निंदा की और केपी के मुख्यमंत्री और देश के गृह मंत्री से जिब्रान के हत्यारों को न्याय के कटघरे में लाने की मांग की। एक बयान में, एसोसिएशन ने उच्च अधिकारियों की ऐसी घटनाओं को रोकने में विफलता की आलोचना की, क्योंकि पत्रकारों को देश भर में लगातार यातना, अपहरण और धमकियों का सामना करना पड़ रहा है। पिछले महीने, सिंधी अखबार के एक अन्य पत्रकार, नसरुल्लाह गदानी को कोराई गोथ के पास अज्ञात मोटरसाइकिल सवार हमलावरों ने निशाना बनाया, जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गए। तीन दिन बाद उनकी मौत हो गई।

Hindi News/ world / पाकिस्तान में पत्रकार की सरेआम गोली मारकर हत्या, जानिए कौन हैं जिब्रान?

ट्रेंडिंग वीडियो