scriptQatar imposed penalties worth Rs. 239 crore on Larsen and Toubro | कतर ने लार्सन एंड टूब्रो पर ठोके 239 करोड़ रुपये के जुर्माने | Patrika News

कतर ने लार्सन एंड टूब्रो पर ठोके 239 करोड़ रुपये के जुर्माने

locationनई दिल्लीPublished: Nov 18, 2023 11:47:17 am

Submitted by:

Tanay Mishra

Trouble For L&T In Qatar: भारतीय कंपनी एलएंडटी की कतर में मुश्किल बढ़ गई है। क्या है इसकी वजह? आइए जानते हैं।

l-and-t.jpg
L&T

भारत की बड़ी निर्माण और इंजीनियरिंग मल्टीनेशनल कंपनी लार्सन एंड टूब्रो (L&T - Larsen & Toubro) की कतर (Qatar) में मुश्किल बढ़ गई है। L&T भारत की सबसे बड़ी मल्टीनेशनल कंपनियों में से एक है और कई दूसरे देशों में भी इसका बिज़नेस है। कतर में भी L&T का बिज़नेस है। पर हाल ही में कतर में आयकर अधिकारियों ने कंपनी द्वारा घोषित आय और विभाग के आंकलन में कथित भिन्नता के लिए 2 जुर्माने लगाए हैं। कंपनी ने शुक्रवार को शेयर मार्केट्स को यह जानकारी दी।


239 करोड़ रुपये के लगे जुर्माने

L&T पर कतर में 111.31 करोड़ रुपये और 127.64 करोड़ रुपये के 2 अलग-अलग जुर्माने लगे हैं। यानी कि करीब 239 करोड़ रुपये के जुर्माने और इस वजह से कंपनी की मुश्किल बढ़ गई है।


कंपनी ने बताया मनमाना और अनुचित

L&T ने नियामक बयान में जानकारी डी कि अप्रैल 2016 से मार्च 2017 और अप्रैल 2017 से मार्च 2018 के बीच कर निर्धारण अवधि के लिए उनपर ये दोनों जुर्माने लगाए गए हैं। कंपनी का मानना है कि यह मनमाना और अनुचित है। इस जुर्माने कंपनी ने एक अपील भी दायर की है।

अपीलीय स्तर पर अनुकूल परिणाम को लेकर पूरी तरह आश्वस्त है कंपनी

L&T ने बताया कि वो अपीलीय स्तर पर अनुकूल परिणाम को लेकर पूरी तरह आश्वस्त है। साथ ही कंपनी ने यह भी बताया कि इससे कंपनी की वित्तीय, परिचालन या अन्य गतिविधियों पर कोई प्रतिकूल प्रभाव पड़ने की संभावना नहीं है।

कतर है L&T के लिए एक प्रमुख मार्केट

कतर L&T के लिए एक प्रमुख मार्केट है। रिपोर्ट के अनुसार चालू वित्त वर्ष में अप्रैल से सितंबर तक कंपनी के ऑर्डर फ्लो में 41% का योगदान कतर से आया है। सितंबर के अंत तक कंपनी के 4,50,700 करोड़ रुपये के ऑर्डर बुक का 32% ऑर्डर पूरा हो गया।

यह भी पढ़ें

म्यांमार में सेना और विद्रोही गुटों में संघर्ष का बुरा असर, रखाइन राज्य में 26 हज़ार से ज़्यादा लोग हुए विस्थापित



ट्रेंडिंग वीडियो