Agitation: पुलिस ने लाठियां फटकारते हुए खदेड़ा एनएसयूआई कार्यकर्ताओं को

पुलिस और छात्रों के बीच धक्का-मुक्की हुई। पुलिस ने लाठियां फटकार कर छात्रों को खदेड़ा।

By: raktim tiwari

Published: 29 Jun 2020, 06:45 AM IST

अजमेर.

लगातार पेट्रोल-डीजल दाम बढ़ोतरी के खिलाफ एनएसयूआई की नाराजगी फूटी। एनएसयूआई के कार्यकर्ताओं, छात्रसंघ कार्यकर्ताओं ने सम्राट पृथ्वीराज चौहान राजकीय महाविद्यालय चौराहे पर नारेबाजी और प्रदर्शन किया। इस दौरान पुलिस और छात्रों के बीच धक्का-मुक्की हुई। पुलिस ने लाठियां फटकार कर छात्रों को खदेड़ा।

केंद्र सरकार के पेट्रोल-डीजल के दाम लगातार बढ़ाने के खिलाफ एनएसयूआई जिलाध्यक्ष नवीन सोनी के नेतत्व में कार्यकर्ता और छात्र रैली के रूप में सम्राट पृथ्वीराज चौहान राजकीय महाविद्यालय चौराहा पहुंचे। छात्र नीरज वैष्णव को महंगाई रूपी स्वांग बनकर मुकुट और काले कपड़े धारण किए। कार्यकर्ताओं ने चौराहे पर जमकर नारेबाजी और प्रदर्शन किया। इस दौरान जिला उपाध्यक्ष दिनेश चौधरी, फाल्गुन, नवीन कोमल, अंकित घारू, दीपक राठौड़, मनीष सैनी, भूपेंद्र टाक, सूरज कलोसिया और अन्य मौजूद थे।

पुलिस ने खदेड़ा छात्रों को
प्रदर्शन के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग की पालना नहीं होने और छात्रों के शोर-शराबे पर पुलिस ने लाठियां फटकार कर खदेड़ा। एनएसयूआई जिलाध्यक्ष और कुछ छात्रों की पुलिसकर्मियों से धक्का-मुक्की भी हुई।

अर्थव्यवस्था खराब, बढ़ रही महंगाई
एनएसयूआई जिलाध्यक्ष सोनी ने कहा कि कोरोना संक्रमण के चलते देश की अर्थव्यवस्था बदहाल है। श्रमिकों, युवाओं के पास रोजगार नहीं है। इसके विपरीत परिस्थितियों में केंद्र सरकार ईंधन के दाम बढ़ोतरी में जुटी है। सरकार को गरीबों और आमजन की परवाह नहीं है। पहली बार पेट्रोल-डीजल के दाम समान हो चुके हैं। इसका असर परिवहन, माल-भाड़ा, आम जरूरी वस्तुओं पर पडऩे लगा है। महासचिव हनीष मारोठिया ने कहा कि दुनिया में कच्चे तेल की कीमतें गिरने के बावजूद सरकार ईंधन के दाम बढ़ोतरी में जुटी है। आम जनता पर बोझ डाला जा रहा है।

raktim tiwari Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned