scriptपहले अपनों ने किया इन्कार, अब पहचान का दावा | Human.............First the own people denied, now they claim the identity | Patrika News
अजमेर

पहले अपनों ने किया इन्कार, अब पहचान का दावा

दयानन्द महाविद्यालय के पीछे 15 जून को ट्रेन की चपेट में आया,शहर में खानाबदोश जिन्दगी कर रहा था बसर, हो चुका है तलाक

अजमेरJun 17, 2024 / 02:00 am

manish Singh

पहले अपनों ने किया इन्कार, अब पहचान का दावा

पहले अपनों ने किया इन्कार, अब पहचान का दावा

अजमेर. दयानन्द महाविद्यालय के पीछे रेलवे ट्रेक पर दो दिन पहले आगरा फोर्ट ट्रेन की चपेट में आए युवक की आखिर रविवार को परिजन ने पहचान कर ली।पुलिस के अनुसार रविवार शाम नागौर थांवला ढाणीपुरा निवासी नाथुराम ने मृतक की शिनाख्त हुकमाराम चौधरी के रूप में की। पुलिस ने पंचनामे की कार्रवाई शुरू की तो उसने फिर कार्रवाई रुकवा दी। उसका कहना रहा कि उसका मन नहीं मान रहा है कि मृतक उसका भाई है। आखिर मामला सोमवार पर टल गया, जबकि नाथुराम के साथ आए ग्रामीणों ने मृतक की पहचान हुकमाराम चौधरी के रूप में की। इससे पहले शनिवार को मृतक के साले व पूर्व पत्नी ने भी उसकी शिनाख्त की थी। गौरतलब है कि ट्रेन की चपेट में आने से मृतक का चेहरा बुरी तरह बिगड़ चुका है।

कलाई पर लिखा है नाम

पुलिस पड़ताल में आया कि मृतक की कलाई पर अंग्रेजी में एच. आर. चौधरी लिखा है। परिजन का कहना है कि हुकमाराम के हाथ पर भी एच. आर. चौधरी लिखा था, लेकिन चेहरा पहचान में नहीं आ रहा। गौरतलब है कि हुकमाराम अजमेर में ही खानाबदोश जिन्दगी बसर करता था। वह कई-कई दिन तक घर नहीं जाता था।

हो चुका है तलाक

पुलिस पड़ताल में आया कि हुकमाराम का काफी पहले तलाक हो चुका है। उसके एक बच्चा है। मौत की सूचना पर पूर्व पत्नी व उसका भाई मोर्चरी में शिनाख्त कर चुके हैं, लेकिन मृतक के भाइयों की संतुष्टी के बाद ही पुलिस पोस्टमार्टम की कार्रवाई अमल में लाएगी।

इनका कहना है…

मृतक की पहचान के प्रयास किए जा रहे हैं। थांवला के हुकमाराम चौधरी के रूप में परिजन ने पहचान की है, लेकिन परिजन ने सोमवार को निर्णय करने की बात कही है।– विजेन्द्र सिंह, हैडकांस्टेबल रामगंज

Hindi News/ Ajmer / पहले अपनों ने किया इन्कार, अब पहचान का दावा

ट्रेंडिंग वीडियो