scriptThere was a demand to open the sealed room inside the Taj Mahal | ताजमहल के अंदर सीलबंद कमरे को खोलने की उठी मांग, इलाहाबाद हाईकोर्ट में याचिका दायर, जानिए पूरा मामला | Patrika News

ताजमहल के अंदर सीलबंद कमरे को खोलने की उठी मांग, इलाहाबाद हाईकोर्ट में याचिका दायर, जानिए पूरा मामला

मामले में रजनीश सिंह नाम के व्यक्ति द्वारा दायर याचिका में सरकार को 'ताजमहल के वास्तविक इतिहास' के अध्ययन और प्रकाशन के लिए एक फेक्ट-फाइंडिग कमेटी का गठन करने और इसके आसपास के विवाद को खत्म करने का निर्देश देने की मांग की गई है। याची की तरफ से अधिवक्ता रुद्र विक्रम सिंह के माध्यम से दायर याचिका में आगे कहा गया है कि समूहों ने दावा किया है कि ताजमहल एक पुराना शिव मंदिर है जिसे 'तेजो महालय' के नाम से जाना जाता था और यह कई इतिहासकारों द्वारा भी समर्थित है।

इलाहाबाद

Published: May 09, 2022 02:32:39 pm

प्रयागराज: इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ पीठ के सक्षम आगरा ताजमहल के विवाद को लेकर याचिका दायर की गई है। इस याचिका के माध्यम से भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण को ताजमहल परिसर के अंदर 20 से अधिक कमरों के सीलबंद दरवाजों को खोलने का निर्देश देने की मांग की गई है। कमरे खुलने से ताजमहल के इतिहास से संबंधित कथित विवाद को हल किया जा सके। इस मामले में रजनीश सिंह नाम के व्यक्ति द्वारा दायर याचिका में सरकार को 'ताजमहल के वास्तविक इतिहास' के अध्ययन और प्रकाशन के लिए एक फेक्ट-फाइंडिग कमेटी का गठन करने और इसके आसपास के विवाद को खत्म करने का निर्देश देने की मांग की गई है।
ताजमहल के अंदर सीलबंद कमरे को खोलने की उठी मांग, इलाहाबाद हाईकोर्ट में याचिका दायर, जानिए पूरा मामला
ताजमहल के अंदर सीलबंद कमरे को खोलने की उठी मांग, इलाहाबाद हाईकोर्ट में याचिका दायर, जानिए पूरा मामला
याची की तरफ से अधिवक्ता रुद्र विक्रम सिंह के माध्यम से दायर याचिका में आगे कहा गया है कि समूहों ने दावा किया है कि ताजमहल एक पुराना शिव मंदिर है जिसे 'तेजो महालय' के नाम से जाना जाता था और यह कई इतिहासकारों द्वारा भी समर्थित है। याचिका में कहा गया है, यह सम्मानपूर्वक प्रस्तुत किया जाता है कि कई वर्षों से एक विवाद चरम पर है। कुछ हिंदू समूह और प्रतिष्ठित संत इस स्मारक को पुराने शिव मंदिर के रूप में दावा कर रहे हैं जो कई इतिहासकारों और तथ्यों द्वारा समर्थित हैं, हालांकि कई इतिहासकार इसे मुगल सम्राट शाहजहाँ द्वारा निर्मित ताजमहल के रूप में मानते हैं। कुछ लोगों का यह भी मानना है कि शिव मंदिर सा प्रतीत होता है। इसी विवाद को सुलझाने के लिए याचिका दायर की गई है।
यह भी पढ़ें

इलाहाबाद हाईकोर्ट: यूपी के पूर्व मंत्री हाजी याकूब कुरैशी को लगा झटका,याचिका खारिज

ताजमहल के कथित इतिहास पर आगे बताते हुए याचिकाकर्ता ने प्रस्तुत कियान है कि कई इतिहास की किताबों में यह है कि 1212 ईस्वी में, राजा परमर्दी देव ने तेजो महालय मंदिर महल (वर्तमान में ताजमहल) का निर्माण किया था। मंदिर बाद में जयपुर के तत्कालीन महाराजा राजा मान सिंह को विरासत में मिला था। उनके बाद, संपत्ति राजा जय सिंह द्वारा आयोजित और प्रबंधित किया गया था, लेकिन शाहजहां ने 1632 में कब्जा कर लिया गया था और बाद में इसे शाहजहां की पत्नी के स्मारक में बदल दिया गया था।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

बिहार : महागठबंधन सरकार का आज मंत्रिमंडल विस्तार, 31 मंत्री लेंगे शपथFIFA ने भारतीय फुटबॉल महासंघ को किया सस्पेंड; महिला वर्ल्ड कप की मेजबानी भी छीनीपूर्व PM अटल बिहारी वाजपेयी की पुण्यतिथि आज, राष्ट्रपति, पीएम मोदी सहित कई नेताओं ने दी श्रद्धांजलिBJP के बड़े नेता और बिहार के पूर्व मंत्री सुभाष सिंह का दिल्ली में निधन, तेजस्वी यादव ने दी श्रद्धांजलिBilkis Bano Gang Rape: आजीवन कारावास की सजा काट रहे सभी 11 दोषी रिहा, राज्य सरकार की माफी योजना के तहत जेल से आए बाहरIndependence Day 2022: भारत की आजादी के 75 साल पूरे होने पर इन देशों ने दी बधाईयां और कही ये बातभारतीय स्टार वीर महान ने WWE में अपने दुश्मन को मार-मारकर किया 'अधमरा', Raw में मचा घमासानKarnataka News: शिवमोग्गा में सावरकर के पोस्टर को लेकर बढ़ा विवाद, धारा 144 लागू
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.