scriptChina: कोरोना के बाद चीन में सामने आया घातक ‘एंथ्रेक्स निमोनिया’ का मामला, जानिए क्या है इसके लक्षण | Case of deadly Anthrax pneumonia reported in China after Coronavirus | Patrika News
एशिया

China: कोरोना के बाद चीन में सामने आया घातक ‘एंथ्रेक्स निमोनिया’ का मामला, जानिए क्या है इसके लक्षण

China एक बार फिर कोरोना वायरस ने पैर पसारना शुरू कर दिया है, इस बीच एंथ्रेक्स निमोनिया के केस ने बढ़ा दी चिंता

Aug 10, 2021 / 11:14 am

धीरज शर्मा

First Anthrax Pneumonia Case detected in China
नई दिल्ली। चीन ( China ) के उत्तर में स्थित हेबई प्रांत से बड़ी खबर सामने आई है। यहां के चेंगदे शहर में एंथ्रेक्स निमोनिया से एक मरीज के पीड़ित होने का पता चला है। यह व्यक्ति पूर्व में मवेशियों, भेड़ों और दूषित उत्पादों के संपर्क में आया था।
दरअसल चीन में कोरोना वायरस एक बार फिर अपने पैर पसार रहा है। संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच वुहान को जहां सील किया गया है वहीं 31 राज्यों में अलर्ट जारी किया जा चुका है। इस बीच एंथ्रेक्स निमोनिया के पहले केस ने चिंता बढ़ा दी है। जानते हैं क्या है एंथ्रेक्स निमोनिया और इसके लक्षण।
यह भी पढ़ेंः Coronavirus In Maharashtra: महाराष्ट्र में डेल्टा प्लस वेरिएंट के अब तक 45 केस, सरकार ने उठाया ये कदम

109.jpg
एंथ्रेक्स निमोनिया के मामले को लेकर चीन के सरकारी अखबार ‘ग्लोबल टाइम्स’ ने जानकारी दी है। ग्लोबल टाइम्स ने बीजिंग रोग नियंत्रण एवं रोकथाम केंद्र ( बीजिंग सीडीसी) के हवाले से बताया है कि मरीज में लक्षण दिखने के बाद उसे चार दिन पहले एंबुलेंस से बीजिंग लाया गया और अलग रखकर उसका उपचार किया जा रहा है।
क्या है एंथ्रेक्स निमोनिया
एंथ्रेक्स निमोनिया की बात करें तो बीजिंग सीडीसी के मुताबिक मवेशियों और भेड़ों में एंथ्रेक्स की मौजूदगी होती है।

बीमार जानवरों या दूषित उत्पादों के संपर्क में आने के चलते इस संक्रमण से इंसान भी संक्रमित हो जाते हैं।
ये हैं लक्षण
एंथ्रेक्स निमोनिया संक्रमण के करीब 95 फीसदी मामलों में त्वचा से संबंधित रोग होते हैं। ये संक्रमण भी त्वचा के संपर्क में आने से ही होता है। इसमें शरीर पर फफोले बनते हैं और त्वचा संबंधी विकृति पैदा हो जाती है।
यह भी पढ़ेंः China: वुहान ने फिर बढ़ाई दुनिया की चिंता, तेजी से बढ़ रहे कोरोना मामलों के बीच सील हुआ शहर

110.jpg
कब फैलती है बीमारी?
यह बीमारी तब फैलती है जब किसी व्यक्ति में सांस के जरिए बैसिलस एंथ्रेक्स (रोगाणु) शरीर में चला जाता है। एंथ्रेक्स इंसान से इंसान के बीच सीधे फैल सकता है, लेकिन यह फ्लू या कोविड-19 की तरह संक्रामक नहीं है।
एंटीबॉयोटिक्स से इलाज
रिपोर्ट के मुताबिक एंथ्रेक्स निमोनिया बैसिलस एंथ्रेक्स रोगाणुओं का समूह होता है, ऐसे में इसके इलाज के लिए कई एंटीबॉयोटिक्स प्रभावी होते हैं।

Hindi News/ world / Asia / China: कोरोना के बाद चीन में सामने आया घातक ‘एंथ्रेक्स निमोनिया’ का मामला, जानिए क्या है इसके लक्षण

loksabha entry point

ट्रेंडिंग वीडियो