लगातार बच्चा चोरी की अफवाहों के शिकार हो रहे बेगुनाह लोग,अयोध्या के ग्रामीण इलाकों में बढ़ी घटनाएँ

खबर के मुख्य बिंदु

- ग्रामीण इलाकों में अजनबियों को अपना शिकार बना रहे शरारती तत्व
- शोशल मीडिया पर अफवाह फैलाने वालों को जेल का रास्ता दिखा रही है अयोध्या पुलिस
- ताज़ा मामले में मार्केटिंग से जुड़ा युवक और एक महिला हुए अफवाह का शिकार पुलिस ने बचाई जान

By: अनूप कुमार

Published: 05 Sep 2019, 02:13 PM IST

अयोध्या : बच्चा चोरी ( bachcha Chori ) को लेकर फैली अफवाहों और उनके जरिए हो रही हिंसक वारदातों को रोकने के लिए यूपी पुलिस के तमाम प्रयास विफल होते नजर आ रहे हैं | गांव गांव गली गली लोगों को जागरूक करने के बावजूद भी उपद्रवी टाइप के तत्व बेवजह अफवाहें फैलाकर बेगुनाहों की पिटाई कर रहे हैं | अयोध्या ( Ayodhya ) जिले में भी लगातार इस तरह की घटनाएं हो रही है जिनमें बेवजह बेगुनाह लोग पीते जा रहे हैं | ताजा मामले में रुदौली ( Rudauli ) इलाके में पुरानी सब्जी मंडी के पास मौजूद कुछ लोगों ने एक युवक को देखकर बेवजह बच्चा चोर होने की आवाज लगा दी और मौके पर भीड़ जमा हो गई | इसी भीड़ में मौका पाकर कुछ लोगों ने युवक के ऊपर अपना हाथ साफ कर लिया |

ये भी पढ़ें - बाबरी मस्जिद मामले के मुद्दई इकबाल अंसारी की सुरक्षा बढ़ाई गयी


जब पुलिस मौके पर पहुंची और युवक को थाने लेकर कराई तो पता चला कि युवक एक प्राइवेट एडवरटाइजमेंट कंपनी का सर्वे करने के लिए आया था और वह नगर की दीवारों को देख रहा था | जिससे उन पर विज्ञापन पेंट कराया जा सके ,लेकिन शरारत वश कुछ लोगों ने शोर मचा दिया और बेगुनाह युवक लोगों की भीड़ में फंस गया | कुछ इसी तरह की घटना इलाके के ग्रामीण क्षेत्र मवई ( Mawai ) में भी सामने आई जहां पर गांव में टहल रही एक महिला को ग्रामीणों ने शक के आधार पर पुलिस ( Mawai Police ) के हवाले कर दिया | दोनों महिलाओं को ग्रामीणों ने बच्चा चोर समझ लिया और उसे घेरकर पकड़ लिया | राहत की बात यह रही की समय रहते पुलिस मौके पर पहुंच गई | जिसकी वजह से महिला पिटाई से बच गई |

ये भी पढ़ें - बड़ा सवाल हजारों किलोमीटर का सफ़र तय कर अयोध्या पहुंचा नशीला पदार्थ कहीं नही हुई चेकिंग,35 हजार के लालच में उड़ीसा से मौत का सामान लेकर निकल पड़ा ट्रक ड्राइवर

एक और घटना में असम की रहने वाली एक महिला के पास एक छोटी सी बोरी में कुछ बाल रखे हुए मिले | यह देख कर ग्रामीणों का शक बढ़ गया और तत्काल पुलिस ने महिला को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है | ख़ास बात ये है कि अफवाहों को फैलाने के लिए शोशल मीडिया का सहारा ज्यादा लिया जा रहा है ,जिसे ध्यान में रखते हुए पुलिस ( Ayodhya Police ) ने फर्जी मैसेज वायरल करने वाले कई लोगों को जेल की रांह भी दिखाई है लेकिन फिर भी शरारती तत्व अपनी हरकतों से बाज़ नहीं आ रहे हैं .

ये भी पढ़ें - अयोध्या के आचार्य नरेंद्र देव कृषि विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में शामिल हुई उत्तर प्रदेश की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल

Show More
अनूप कुमार Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned