वसीम रिजवी ने राम मंदिर निर्माण के लिए दिया चंदा, कहा- विरोध करने वाले चले जाए पाकिस्तान

वसीम रिजवी ने राम मंदिर निर्माण के लिए दिया चंदा, कहा- विरोध करने वाले चले जाए पाकिस्तान
Wasim

Abhishek Gupta | Updated: 24 Jun 2018, 02:13:59 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

उन्होंने राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण के लिए राम जन्मभूमि कार्यशाला में 10 हजार रुपए का चंदा भी दिया।

अयोध्या. शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने कहा कि राम मंदिर का निर्माण अयोध्या में ही होना चाहिए। अयोध्या ही भगवान राम की जन्मभूमि है और यहां मस्जिद की कोई भी जरूरत नहीं। रविवार को वसीम रिजवी अयोध्या पहुंचे थे जहां उन्होंने राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण के लिए राम जन्मभूमि कार्यशाला में 10 हजार रुपए का चंदा भी दिया।

ये भी पढ़ें- यूपी में कई IAS के हुए तबादले, जानिए आपके शहर का नया DM कौन

मंदिर निर्माण का विरोध करने वाला चला जाए पाकिस्तान-

वसीम रिजवी ने कहा कि करोड़ों राम भक्तों के दिलों को जीतना एक मुकदमा जीतने से बेहतर है। सेक्युलर मुसलमान होने के कारण आज राम जन्म भूमि कार्यशाला में आए हैं और अपनी हैसियत के अनुसार यहां पर दान दे रहे हैं। मंदिर निर्माण के लिए यह हमारी तरफ से छोटी सी भेंट हैं। यह बहुत बड़ा मोहब्बत का पैगाम है। हमारा देश मोहब्बत और भाईचारे से चलेगा। उन्होंने आगे कहा कि मुसलमानों के लिए यहां पर मस्जिद की जरूरत नहीं है। हिंदुस्तान के सेक्युलर मुसलमान चाहते हैं कि विवाद खत्म होना चाहिए और अयोध्या में राम मंदिर बनना चाहिए। मंदिर निर्माण का विरोध कर रहे लोगों को सख्त लहजे में उन्होंने दाऊद की तरह पाकिस्तान चले जाने की सलाह दी।

ये भी पढ़ें- भीषण गर्मी के चलते सभी स्कूल इस तारीख तक रहेंगे बंद, आया आदेश

मंदिर निर्माण जब होगा, कई मुसलमान लेंगे उसमें हिस्सा-

वसीम रिजवी ने आगे कहा कि हमने लखनऊ में मस्जिद-ए-अमन बनाए जाने के लिए कोर्ट में प्रस्ताव दिया है। वहीं उन्होंने कहा कि हम अपनी हैसियत के अनुसार 10 हजार रुपए का दान आज हम मंदिर निर्माण के लिए दे रहे हैं और जिस दिन राम मंदिर निर्माण शुरू हो जाएगा, उस दिन बहुत से सेक्युलर मुसलमान सामने आएंगे। जिसकी जैसी हैसियत होगी वह निर्माण में सहयोग करेगा।

 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned