आजमगढ़ में ताजिया जुलूस के दौरान जमकर हुआ पथराव, चार घायल

आजमगढ़ के मुकारबपुर के कुकुरसंडा गांव में ताजिया जुलूस के दौरान पथराव मं चार लोग घायल

आजमगढ़. मुबारकपुर क्षेत्र के कुकुरसंडा गांव में रविवार को मुहर्रम के अवसर पर निकाले जाने वाले ताजिया जुलूस एवं दशहरा के अवसर पर लगने वाले मेले के दौरान दो पक्षों के लोग आमने-सामने हो गए। मौके पर जमकर ईंट पत्थर चले।


इस घटना में चार लोग घायल हो गए। घायलों का इलाज स्थानीय सीएचसी पर चल रहा है। गांव में व्याप्त तनाव को देखते हुए मौके पर पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। बताते हैं कि क्षेत्र के ग्राम देवली और आदमपुर गांव के ताजिएदार पड़ोसी गांव कुकुरसंडा में ताजिया दफनाने जा रहे थे।


इसी बीच ताजिया जुलूस में शामिल ढोल-नगाड़ा बजा रहे युवक गांव में लगने वाले मेले में चले गए। इसी बात को लेकर मामला उग्र हुआ और दोनों पक्षों के लोग आमने-सामने हो गए। दोनों पक्षों के बीच जमकर ईंट-पत्थर चलने लगे। इस घटना में एक पक्ष के इमरान (22) ग्राम देवली, शाहाबुद्दीन (40) ग्राम असाऊर तथा दूसरे पक्ष के छेदी (30) व महेंद्र (28) ग्राम कुकुरसंडा घायल हो गए। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस मामले को शांत कराते हुए घायलों को अस्पताल भेजा। देर शाम तक इस मामले में थाने में कोई तहरीर नहीं दी गई थी। मौके पर पुलिस बल तैनात है।

 

उधर बलिया के सिकन्दरपुर में शनिवार की रात हुए बवाल के बाद पुलिस प्रशासन मुस्तैद रही। दिन में डीम एसपी के नेतृत्व में कई थाने की पुलिस और पीएसी की सुरक्षा में ताजिया और अखाड़ा का जुलूस निकाला गया। शाम पांच बजे के आस-पास भारी सुरक्षा के बीच जुलूस निकला और रात तकरीबन साढ़े आठ बजे तक वापस हुआ। मौके पर आजमगढ़ के कमिश्नर, डीआईजी, एसपी और पुलिस अधीक्षक डटे हुए हैं। माहौल न खराब हो इसको लेकर पूरा प्रयास जारी है। प्रतिमा विसर्जन सोमवार को होना है। पुलिस प्रशासन ने कहा है कि माहौल खराब करने वाले अराजक तत्वों को चिन्हित किया जा रहा है। उन पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

by RAN VIJAY SINGH

 

 

रफतउद्दीन फरीद Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned