कोरोना का कहर, बेटे और पति की मौत के बाद महिला ने भी तोड़ा दम

मध्यप्रदेश के बालाघाट में एक हृदय विदारक घटना सामने आई है। कोरोना वायरस ने पूरे परिवार को छीन लिया है...

By: Ashtha Awasthi

Updated: 14 Apr 2021, 02:05 PM IST

बालाघाट। पूरे मध्यप्रदेश में कोरोना वायरस (CoronaVirus) के आंकड़ों में बढ़ोतरी होना बदस्तूर जारी है। राजधानी भोपाल सहित प्रदेश के सभी जिले कोरोना महामारी की चपेट में आ गए है और हर दिन कोरोना के मामले नया रिकॉर्ड बना रहे हैं। वहीं हालात ऐसे बन गए है कि चिताओं को जलाने के लिए श्मशान घाटों में जगह नहीं मिल रही है। इसी बीच मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के बालाघाट (Balaghat) में एक हृदय विदारक घटना सामने आई है।

MUST READ: शवों की गिनती को मजबूर हैं शहर के श्मशान घाट, एक साथ हुए 84 अंतिम संस्कार

 

02_shamshan_1.png

परिवार में बची है बेटी

बालाघाट के वारासिवनी के सिकंद्रा गांव में एक ही घर में 4 दिन के भीतर 3 मौतें होने हो गई हैं। बता दें कि परिवार में बीते 10 अप्रैल को 31 वर्षीय बेटे की कोरोना से मौत हो गई थी। इसी दौरान 60 वर्षीय पिता कोरोना पाजिटिव पाए गए तो उन्हें होम आइसोलेशन में रख दिया।

इसके बाद बेटे की मौत से परेशान 55 वर्षीय मां की तबीयत बिगड़ने पर उन्हें बालाघाट में भर्ती किया गया। इसी बीच बीते सोमवार को महिला के 60 वर्षीय पति ने भी दम तोड़ दिया। बीते मंगलवार को महिला की भी अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई। बताया जा रहा है कि इसी परिवार की एक 10 वर्षीय बालिका भी कोरोना पाजिटिव है।

MUST READ: बड़ा फैसला: अब 30 अप्रैल से नहीं होगी 10वीं-12वीं की बोर्ड परीक्षाएं

तेजी से बढ़ रहा है संक्रमण

जानकारी के लिए बता दें कि पिछले 24 घंटों की तो प्रदेश में अब तक सामने आए सभी केसों में सबसे अधिक यानी 8 हजार 998 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। भोपाल में ही रिकॉर्ड 1456 नए केस सामने आए हैं, ग्वालियर में 576 और जबलपुर में 552 पॉजिटिव केस मिले हैं। उज्जैन में 317 और बड़वानी में 237 संक्रमित मिले हैं। इसके अलावा 19 शहर ऐसे हैं, जहां 100 से 200 केस आए। मंगलवार देश शाम सामने आए स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी किये गए ताजा आंकड़ों के मुताबिक, 40 मौतें दर्ज की गईं।

Ashtha Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned