scriptविद्या चेतना योजना में राशि बढ़ाने से होगा लाभ-रामलिंगा रेड्डी | 4 कार्मिकों के आश्रितों को 1-1 करोड़ रुपए का मुआवजा | Patrika News
बैंगलोर

विद्या चेतना योजना में राशि बढ़ाने से होगा लाभ-रामलिंगा रेड्डी

रिवहन एवं देवस्थानम मंत्री रामलिंगा रेड्डी ने ड्यूटी के दौरान दुर्घटना में मरने वाले 4 कर्मचारियों के आश्रितों को 1-1 करोड़ रुपए, विभिन्न बीमारियों के कारण मरने वाले 23 कर्मचारियों के आश्रितों को 10-10 लाख रुपए तथा केएसआरटीसी बसों में यात्रा करते समय दुर्घटना में मरने वाले 4 यात्रियों के आश्रितों को 10-10 लाख रुपए मुआवजा राशि के चेक वितरित किए।

बैंगलोरJun 12, 2024 / 05:12 pm

Yogesh Sharma

4 कार्मिकों के आश्रितों को 1-1 करोड़ रुपए का मुआवजा
केएसआरटीसी मुख्यालय में हुआ आयोजन

बेंगलूरु. परिवहन एवं देवस्थानम मंत्री रामलिंगा रेड्डी ने ड्यूटी के दौरान दुर्घटना में मरने वाले 4 कर्मचारियों के आश्रितों को 1-1 करोड़ रुपए, विभिन्न बीमारियों के कारण मरने वाले 23 कर्मचारियों के आश्रितों को 10-10 लाख रुपए तथा केएसआरटीसी बसों में यात्रा करते समय दुर्घटना में मरने वाले 4 यात्रियों के आश्रितों को 10-10 लाख रुपए मुआवजा राशि के चेक वितरित किए। कर्नाटक राज्य सडक़ परिवहन निगम (केएसआरटीसी) मुख्यालय में बुधवार को आयोजित समारोह में परिवहन मंत्री रामलिंगा रेड्डी ने कहा कि निगम ने श्रमिकों एवं यात्रियों के कल्याण के लिए कई कार्यक्रम तैयार किए हैं तथा उन्हें क्रियान्वित किया है। मृतक कर्मचारी को तो वापस नहीं लाया जा सकता, लेकिन निगम द्वारा उनके परिवार की आर्थिक आत्मनिर्भरता के लिए बनाई गई योजना दूरदर्शी है। उन्होंने परिवार के सदस्यों से आग्रह किया कि वे इस राशि का उपयोग अपने बच्चों की शिक्षा तथा घर बनाने में करें तथा इसे व्यर्थ न जाने दें। उन्होंने शक्ति योजना के सफल क्रियान्वयन में प्रमुख भूमिका निभाने वाले निगम के कर्मचारियों,अधिकारियों और श्रमिक नेताओं को बधाई दी। उन्होंने प्रबंध निदेशक को विद्या चेतना योजना के तहत छात्रवृत्ति राशि और बढ़ाने की संभावना तलाशने को कहा। गुब्बी के विधायक और केएसआरटीसी अध्यक्ष एसआर श्रीनिवास (वासु) ने कहा कि निगम में काम करने वाले कर्मचारी मेहनती हैं और उन्हें वे सभी सुविधाएं मिलनी चाहिए, जिनके वे हकदार हैं। उन्होंने कहा कि आज वितरित की गई मुआवजा राशि का परिवार द्वारा आर्थिक आत्मनिर्भरता और परिवार के स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए उचित उपयोग किया जाना चाहिए। केएसआरटीसी ने ड्यूटी और ऑफ ड्यूटी के दौरान हुई दुर्घटना में जान गंवाने वाले मृतकों के आश्रितों को वित्तीय स्थिरता प्रदान करने के लिए 1 करोड़ रुपए की दुर्घटना राहत बीमा योजना शुरू की है। अब तक 13 कर्मचारियों के परिवारों को 1 करोड़ रुपए की दुर्घटना बीमा राशि वितरित की गई है और आज 04 मृतक कर्मचारियों के परिवारों को 1 करोड़ रुपए की दुर्घटना बीमा राशि वितरित की गई है। कार्यक्रम में केएसआरटीसी के प्रबंध निदेशक वी.अंबुकुमार, यूनियन नेता अनंथा सुब्बाराव, वी. जे. भास्कर, रेवप्पा, मंजूनाथ, चंद्रशेखर, नागराजू, वेंकट रमणप्पा, जयराज अर्स, अधिकारी और कर्मचारी उपस्थित थे।

Hindi News/ Bangalore / विद्या चेतना योजना में राशि बढ़ाने से होगा लाभ-रामलिंगा रेड्डी

ट्रेंडिंग वीडियो