scriptपीलीभीत से अपहरण छात्रा को लखीमपुर में कार से फेंका, सामूहिक दुष्कर्म की आशंका, हालत गंभीर | Student kidnapped from Pilibhit thrown out of car in Lakhimpur, gang rape suspected, | Patrika News
बरेली

पीलीभीत से अपहरण छात्रा को लखीमपुर में कार से फेंका, सामूहिक दुष्कर्म की आशंका, हालत गंभीर

बुधवार की सुबह लखीमपुर-सीतापुर फोरलेन पर जीएनएम सेकंड ईयर की छात्रा बेहोश अवस्था में मिली। उसे पीलीभीत से अगवा किया था और खीरी क्षेत्र में कार चालक फेंककर भाग निकला। बताया जाता है कि कार में एक महिला और तीन पुरुष सवार थे। सुबह ग्रामीणों ने छात्रा को देखा तो पुलिस को सूचना दी।

बरेलीJun 20, 2024 / 01:12 pm

Avanish Pandey

पीलीभीत। बुधवार की सुबह लखीमपुर-सीतापुर फोरलेन पर जीएनएम सेकंड ईयर की छात्रा बेहोश अवस्था में मिली। उसे पीलीभीत से अगवा किया था और खीरी क्षेत्र में कार चालक फेंककर भाग निकला। बताया जाता है कि कार में एक महिला और तीन पुरुष सवार थे। सुबह ग्रामीणों ने छात्रा को देखा तो पुलिस को सूचना दी। उसे गंभीर हालत में जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहां से लखनऊ रेफर कर दिया गया है। आशंका है कि छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म किया गया है। छात्रा 12 जून से गायब थी। उसकी गुमशुदगी थाना उत्तरी सेहरामऊ (पीलीभीत) में दर्ज कराई गई थी।
ग्रामीणों का कहना था कि युवती काफी डरी सहमी और बदहवास थी हालत में
फोरलेन पर स्थित गांव चिमनी के ग्रामीणों ने बताया कि सुबह 7.30 बजे कार आकर रुकी जिसमें एक युवती और तीन पुरुष सवार थे। गांव वाले कुछ समझ पाते इससे पहले कार से युवती को सड़क किनारे फेंक दिया और चालक तेज रफ्तार कार लेकर फरार हो गया। ग्रामीणों का कहना था कि युवती काफी डरी सहमी और बदहवास हालत में थी। यूपी 112 पुलिस ने युवती को लेकर जिला अस्पताल में भर्ती कराया। युवती ने अपना नाम और पता, थाना उत्तरी सेहरामऊ जिला पीलीभीत बताया। कार सवार कौन थे, यहां उसे कैसे लेकर आए। इस बारे में वह कुछ नहीं बता पा रही थी। खीरी थानाध्यक्ष अजीत कुमार ने जिला अस्पताल में पहुंचकर उत्तरी सेहरामऊ पुलिस से संपर्क किया और घटना की जानकारी दी। सूचना पर छात्रा के परिजन वहां की पुलिस के साथ जिला अस्पताल पहुंचे। परिजनों के आने के बाद जिला अस्पताल से युवती को जिला महिला अस्पताल भेजा गया। उसके बाद वहां मेडिकल परीक्षण हुआ। हालत गंभीर होने पर उसे लखनऊ रेफर कर दिया गया।
बेटी की वीडियो सोशल मीडिया पर देखने और पुलिस की सूचना से उन्हें हुई जानकारी
युवती के पिता ने बताया कि उनकी बेटी पीलीभीत शहर के एक अस्पताल में जीएनएम द्वितीय वर्ष की छात्रा है। 12 जून को वह पीलीभीत गए थे। 13 को छुट्टी होने की वजह से पुत्री को आसाम पुलिस चौकी चौराहा से शाम लगभग पांच बजे मैजिक में बिठाकर घर भेज दिया था। लेकिन छात्रा शाम तक घर नहीं पहुंची। परिजनों ने उसकी तलाश की। मगर कोई पता नहीं चला। फिर अगले दिन गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। बुधवार को बेटी की वीडियो सोशल मीडिया पर देखने और पुलिस की सूचना से उन्हें पता चला।

Hindi News/ Bareilly / पीलीभीत से अपहरण छात्रा को लखीमपुर में कार से फेंका, सामूहिक दुष्कर्म की आशंका, हालत गंभीर

ट्रेंडिंग वीडियो