scriptBA 2 strain is not catchable in many tests | कई टेस्ट में भी पकड़ में नहीं आता BA 2 स्ट्रेन, जानिए क्यों खतरनाक है ओमिक्रान का ये सब वेरिएंट | Patrika News

कई टेस्ट में भी पकड़ में नहीं आता BA 2 स्ट्रेन, जानिए क्यों खतरनाक है ओमिक्रान का ये सब वेरिएंट

ओमिक्रान के सब वेरिएंट ने सभी की चिंता बढ़ा दी है.

भोपाल

Updated: January 25, 2022 01:32:35 pm

भोपाल. देश में कोरोना के कारण चिंता बरकरार है. मध्यप्रदेश में भी तीसरी लहर ने व्यापक संक्रमण बढ़ाया है. हालांकि सोमवार को 24 घंटों में मिलनेवाले केसेस में आंशिक कमी आई है पर कोरोना के कारण मौतें अभी भी हो रहीं हैं. इस बीच इंदौर में मिले ओमिक्रान के सब वेरिएंट ने सभी की चिंता बढ़ा दी है.
corona_n.png
ओमिक्रान के सब वेरिएंट ने सभी की चिंता बढ़ा दी है.
ओमिक्रॉन के नए सब-स्ट्रेन (BA.2) ने प्रदेश सरकार सहित केंद्र सरकार और चिकित्सकों की नींद उड़ा दी है. प्रदेश की व्यवसायिक राजधानी इंदौर में अभी तक इससे 21 संक्रमित मिल चुके हैं. विशेषज्ञ और डाक्टर्स बताते हैं कि यह बेहद तेजी से फैलता है और सबसे बुरी बात यह है कि इसे RT-PCR टेस्ट से भी पकड़ना मुश्किल होता है.
यह भी पढ़ें : कोरोना का खतरनाक साइड इफेक्ट, हर तीसरा बच्चा प्रभावित, जानिए क्या कह रहे डॉक्टर्स

कोरोना के नए सब-वैरिएंट को ‘स्टेल्थ ओमिक्रॉन’ या ‘छिपा हुआ ओमिक्रॉन’ भी कहा जा रहा है. इसका कारण यह है कि कोरोना के कई टेस्ट भी इसे पकड़ने में नाकाम रहते हैं. एक रिपोर्ट का कहना है कि रिसर्चर्स के मुताबिक स्टेल्थ ओमिक्रॉन के म्यूटेशन, ओमिक्रॉन के अन्य पूर्ववत स्ट्रेन के म्यूटेशन से बहुत अलग हैं.
यह भी पढ़ें : ओमिक्रोन का ये है सबसे पहला लक्षण, दिखे तो तुरंत हो जाएं सावधान

omicrons.png

डॉ. जिनेंद्र गढवाल बताते हैं कि दरअसल, कोरोना सैंपल की जांच में इसे पकड़ना बहुत मुश्किल होता है. इस कारण संक्रमित होने का पता ही चल पाता है. ओमिक्रॉन के इस नए सब-वैरिएंट (BA.2) के S जीन में पहले के स्ट्रेन जैसे म्यूटेशन नहीं है. इस वजह से RT-PCR टेस्ट में इस वैरिएंट को पकड़ पाना मुश्किल होता है.

यह भी पढ़ें : बेहद खतरनाक है ओमिक्रोन, इस अंग को कर रहा खराब, जानिए कैसे करें बचाव

ओमिक्रॉन के BA.1 स्ट्रेन की तुलना में नए सब-वैरिएंट (BA.2) में 28 यूनिक म्यूटेशन हो सकते हैं. इस नए सब वैरिएंट में भी पहले के स्ट्रेन से मिलते-जुलते 32 म्यूटेशन भी हैं.RT-PCR टेस्ट में इस वैरिएंट के पकड़ में नहीं आने से कोरोना के इस नए वैरिएंट को पकड़ने के लिए एकमात्र उपाय जीनोम सीक्वेंसिंग ही है.

यह भी पढ़ें : वेक्सीन लगवानेवालों पर भी बढ़ा खतरा, दिखें ये लक्षण तो हो जाएं सावधान

इसलिए खतरनाक है सब-वैरिएंट BA.2
— ओमिक्रॉन के ओरिजनल स्ट्रेन BA.1 के S जीन या स्पाइक प्रोटीन में म्यूटेशन हैं, जो कि RT-PCR टेस्ट में नजर आ जाते हैं पर BA.2 नजर नहीं आता.
— कोरोना के इस नए वैरिएंट को पकड़ने के लिए एकमात्र उपाय जीनोम सीक्वेंसिंग है.

यह भी पढ़ें : भारत मेें मिला ओमिक्रॉन का सबसे तेजी से फैलने वाला स्ट्रेन, बच्चे हो रहे शिकार

— ये प्रक्रिया बहुत ही खर्चीली है, आम मरीज इसका खर्च वहन नहीं कर सकता है.
— इसकी रिपोर्ट आने में भी कई दिन लगते हैं. इससे हालात बुरे हो जाते हैं.

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

IPL 2022: टिम डेविड की तूफानी पारी, मुंबई ने दिल्ली को 5 विकेट से हराया, RCB प्लेऑफ मेंपेट्रोल-डीज़ल होगा सस्ता, गैस सिलेंडर पर भी मिलेगी सब्सिडी, केंद्र सरकार ने किया बड़ा ऐलान'हमारे लिए हमेशा लोग पहले होते हैं', पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कटौती पर पीएम मोदीArchery World Cup: भारतीय कंपाउंड टीम ने जीता गोल्ड मेडल, फ्रांस को हरा लगातार दूसरी बार बने चैम्पियनआय से अधिक संपत्ति मामले में ओम प्रकाश चौटाला दोषी करार, 26 मई को सजा पर होगी बहसऑस्ट्रेलिया के चुनावों में प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन हारे, एंथनी अल्बनीज होंगे नए PM, जानें कौन हैं येगुजरात में BJP को बड़ा झटका, कांग्रेस व आदिवासियों के लगातार विरोध के बाद पार-तापी नर्मदा रिवर लिंक प्रोजेक्ट रद्दजापान में होगा तीसरा क्वाड समिट, 23-24 मई को PM मोदी का जापान दौरा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.