Fact Check : हाथ में चप्पल लिए है सिंधिया तो बताया जा रहा उनका अपमान, जानिए फोटो की सच्चाई

सिंधिया के हाथ में चप्पल, क्या उनका अपमान था? ये है सच...।

By: Faiz

Published: 26 Aug 2020, 08:29 PM IST

भोपाल/ मध्य प्रदेश में जैसे जैसे उपचुनाव के दिन नज़दीक आ रहे हैं। वैसे वैसे राजनीतिक गलियारों से लेकर सोशल मीडिया तक राजनीतिक सरगर्मी बढ़ती जा रही है। एक छोटी सी बात भी किस तरफ तूल पकड़ सकती है, इसका अंदाजा भी चुनावों के नज़दीक आने पर लगाया जा सकता है। फिर जब बात कांग्रेस का दामन छोड़ भाजपा में शामिल हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया की हो, तो उसका तूल पकड़ना और भी लाज़मी हो जाता है। दरअसल, इन दिनों सोशल मीडिया पर एक फोटो काफी चर्चा में है। फोटो भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया का है, जो अपने हाथ में चप्पल पकड़े नज़र आ रहे हैं। इस फोटो को लेकर ही राजनीतिक गलियारों से लेकर सोशल मीडिया तक सिंधिया पर तंज कस रहे हैं। लेकिन, क्या है इस फोटो की सच्चाई? आइये जानते हैं...।

 

पढ़ें ये खास खबर- अब से पुलिस भर्ती में संविदा कर्मियों को नहीं मिलेगा 20 फीसदी आरक्षण, सरकार का अहम फैसला


फोटो शेयर कर पूछे जा रहे सवाल

Fact Check News

कुछ महीनों पहले ही कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस का साथ छोड़ने का कारण सम्मान न मिलना बताया था। उनके इसी बयान से सोशल मीडिया पर वायरल हो रही तस्वीर को जोड़कर तंज कसे जा रहे हैं। सोशल प्लेटपॉम पर फोटो शेयर करते हुए लोग सिंधिया पर तंज कसते हुए कह रहे हैं कि, क्या वो भाजपा में मिलने वाले इस सम्मान की खातिर कांग्रेस छोड़कर आए हैं?

 

पढ़ें ये खास खबर- पढ़ाई से दूर न हो बचपन : इसलिए कभी मंदिर तो कभी खेत और कभी सड़क पर ही कक्षा लगा देते हैं ये शिक्षक


प्रद्युम्न सिंह को चप्पल क्यों पहना रहे थे सिंधिया, जानिए

पड़ताल में सामने आया कि, ज्योतिरादित्य सिंधिया ने इसी साल 22 अगस्त को अपने एक ट्वीट किया था, जिसमें वो प्रद्युम्न सिंह को चप्पल पहना रहे हैं। हालांकि, बड़ा सवाल ये हैं कि, आखिर सिंधिया, प्रद्युम्न सिंह को चप्पल क्यों पहना रहे हैं? इसका जवाब भी इंटरनेट पर आसानी से मिल गया। करीब 3 महीने पहले पत्रिका समेत कई वेबसाइट्स और अखबारों में खबर छपी थी, जसके मुताबिक कमलनाथ सरकार में कैबिनेट मंत्री रहे प्रद्युम्न सिंह तोमर ने जनता की बुनियादी समस्याओं को दूर करने तक चप्पल जूते न पहनने की शपथ ली थी। तब से कई अवसरों पर प्रद्युम्न सिंह बिना जूते-चप्पल के दिखाई देते रहे।

 

पढ़ें ये खास खबर- मध्य प्रदेश में आज कोरोना ने तोड़े सभी रिकॉर्ड, 55695 पहुंचा कुल संक्रमितों का आंकड़ा, 1263 की मौत


सामने आई सच्चाई

Fact Check News

जब ज्योतिरादित्य सिंधिया भाजपा में शामिल हो गए, उसके करीब चार महीने बाद प्रद्युम्न ने भी कांग्रेस से नाता तोड़ भाजपा का दामन थाम लिया और उन्हें भाजपा सरकार में कैबिनेट मंत्री का दर्जा मिल गया। तब भी प्रद्युम्न सिंह अपने पैरों में चप्पल या जूता नहीं पहन रहे थे। ऐसे में 22 अगस्त को ग्वालियर में हुए बीजेपी के सदस्यता अभियान समारोह में सिंधिया ने कई महीनों से नंगे पैर रहने वाले प्रद्युम्न सिंह तोमर को चप्पल पहनाई थी। फोटो पर भी अगर गौर करें तो, सिंधिया के पीछे प्रद्युम्न सिंह तोमर भी खड़े नज़र आ रहे हैं। उसी आयोजन के एक अन्य फोटो में सिंधिया उन्हें मंच पर चप्पल पहनाते भी नजर आए। इससे ये बात तो साफ हो गई कि, फोटो का सिंधिया के अपमान से कोई रिश्ता नहीं है।

Fact Check fact checking
Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned